1 जुलाई से बदल जाएगा ‎सिंडीकेट बैंक का आईएफएससी कोड

0
69
Syndicate Bank

मुंबई, 12 जून (वेबवार्ता)। सिंडिकेट बैंक की शाखाओं के मौजूदा आईएफएससी 30 जून 2021 तक ही काम करेंगे। 1 जुलाई 2021 से नए आईएफएससी लागू होंगे। इसलिए ग्राहक 30 जून तक नए आईएफएससी अपडेट कर लें। सिंडिकेट बैंक का 1 अप्रैल 2020 से केनरा बैंक में विलय हो चुका है। अब सिंडिकेट बैंक की सभी शाखाएं केनरा बैंक की शाखाओं के तौर पर काम कर रही हैं।

सार्वजनिक क्षेत्र के केनरा बेंक ने मार्च 2021 में ही कहा था कि पूर्ववर्ती सिंडिकेट बैंक की शाखाओं द्वारा जारी की गईं चेकबुक जून 2021 अंत तक ही वैध रहेंगी। इस बारे में बैंक ने एक बार फिर विज्ञापन के जरिए सूचित किया है। सिंडीकेट बैंक के चेकबुक 30 जून 2021 तक ही वैलिड हैं। इसलिए ग्राहक जून आखिर तक ही सिंडिकेट बैंक के आईएफएससी और एमआईसीआर कोड वाली चेकबुक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन साथ ही नए आईएफएससी और एमआईसीआर वाले चेकबुक 30 जून तक ले लें।

यह भी कहा गया है थर्ड पार्टी को जारी किए गए सभी पुराने चेक्स को 30 जून 2021 से पहले नए चेक से बदलना होगा। केनरा बैंक का यह भी कहना है कि विदेशी मुद्रा लेनदेन पर स्विफ्ट संदेश भेजने या प्राप्त करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला पूर्ववर्ती सिंडीकेट बैंक का स्विफ्ट कोड भी 1 जुलाई 2021 से बंद हो जाएगा।

आईएफएससी (इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड) 11 अंकों का अल्फान्यूमैरिक कोड होता है, जो बैंकों की चेकबुक और पासबुक पर मौजूद रहता है। यह उन बैंक ब्रांचेज की पहचान करने में मदद करता है, जो नेफ्ट, आरटीजीएस जैसे विभिन्न ऑनलाइन मनी ट्रांसफर विकल्पों में भागीदार होती हैं। एमआईसीआर कोड भी चेक पर रहता है। यह चेक्स की जल्दी प्रोसेसिंग और सेटलमेंट में मदद करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here