एनएआर-इंडिया ने एपीपी दिल्ली एनसीआर द्वारा आयोजित 12 वें वार्षिक कन्वेंशन में वर्ल्ड रियल्टर्स डे मनाया

0
382
Webvarta Desk: 21 मार्च 2021 को नई दिल्ली के एयरोसिटी में एपीपी द्वारा एनएआर-इंडिया के साथ मिलकर आयोजित 12वें वार्षिक कन्वेंशन में वर्ल्ड रियल्टर्स डे बड़े उत्साह के साथ मनाया गया। अपने थीम ‘अनंत अवसर’ के अनुसार, कॉन्क्लेव में रियल एस्टेट पेशेवरों, डेवलपर्स, वास्तुकारों, वित्तीय संस्थानों और कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधियों के लिए कई अवसरों की एक श्रृंखला पेश की गई।

श्री सुमंत रेड्डी, अध्यक्ष, एनएआर इंडिया ने कहा, “अगर गैर-सदस्यों ने भी आयोजन के दौरान पेश किए गए अवसरों का लाभ उठाया, तो यह सम्मेलन सफल समझा जाएगा। मैं उनसे आग्रह करता हूँ कि वे पूरे मन से इस कार्यक्रम में भाग लें और सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए इस खुले मंच का लाभ उठाने के लिए अपने शहर की एसोसिएशन के सदस्य बनें”।

उपस्थित लोगों ने नए संपर्क स्थापित करने, व्यावसायिक रिश्तों को बढ़ावा देने और उद्योग जगत में हो रहे नवीनतम विकास के बारे में खुद को शिक्षित करने के लिए इस सबसे बड़े रियल एस्टेट प्लेटफॉर्म का भरपूर लाभ उठाया।

श्री तरुण भाटिया, आगामी अध्यक्ष, एनएआर-इंडिया और अध्यक्ष एपीपी दिल्ली एनसीआर, ने अपने उद्घाटन भाषण में कहा, “एनएआर-इंडिया हमेशा रियल एस्टेट ब्रोकरेज में पारदर्शिता, जवाबदेही, नैतिकता और पेशेवर आचरण पर केंद्रित रहा है। इसी दृष्टि को बरकरार रखते हुए, कई कार्यशालाएं और पैनल चर्चाओं का आयोजन किया गया है, जिनसे प्रतिभागी यहाँ प्रस्तुत ज्ञान के विशाल भंडार से लाभान्वित हो सकें”।

अधिवेशन में एक सामाजिक सरोकार पर भी जोर दिया गया, यानी केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में बच्चों की शिक्षा को उन्नत बनाना। एपीपी और एनएआर-इंडिया ने 17000 फीट फाउंडेशन, धारा 25 के तहत स्थापित एक गैर-लाभकारी कंपनी, के साथ भागीदारी की। भारत के सबसे नए केंद्र शासित प्रदेश में बच्चों के लिए इस विकासकारी परिवर्तन को संभव बनाने के लिए। कई परोपकारी लोग इस पहल में अपना योगदान देने के लिए आगे आए और उन्होंने पूरे दिल से सहयोग किया।

इस लोक कल्याण कार्य का पूरे दिल से समर्थन करते हुए, श्री रवि वर्मा, अध्यक्ष, एनएआर-इंडिया ने कहा, “केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में इसकी विवादित स्थिति के दौरान अच्छी शैक्षिक सुविधाएं नहीं थीं। हालांकि, अब उस स्थिति को बदलने और बच्चों को एक अच्छी गुणवत्ता की शिक्षा उपलब्ध कराने का समय है, जो कि उनका मूल अधिकार है। हम इस तरह के प्रासंगिक सरोकारों का बीड़ा उठाने और इस मोर्चे पर सकारात्मक पहल की शुरूआत करने के लिए 17000 फीट फाउंडेशन के आभारी हैं।”

अधिवेशन में प्रतिभागिता की सराहना करते हुए, श्री क्षितिज नागपाल – प्रमुख, एनएआर-इंडिया उत्तरी क्षेत्र और अध्यक्ष, एपीपी दिल्ली एनसीआर, ने कहा, “यह हमें अपने करियर के दौरान की गई प्रतिबद्धताओं की याद दिलाता है। रियल एस्टेट व्यवसाय में डेवलपर-ब्रोकर्स का इंटरैक्शन हमारे जीवन का एक प्रमुख हिस्सा हैं, और व्यापारिक लेनदेन की तरह ही हम भरोसा, विश्वसनीयता और भावनाओं का भी लेनदेन करते हैं – ये ही हमारे रिश्तों को मज़बूती प्रदान करने वाले 3 स्तंभ हैं।”

इस आयोजन का मुख्य आकर्षण पूर्व कॉमनवेल्थ रेसलिंग चैंपियन सुश्री गीता फोगाट की उपस्थिति थी जिन्होंने अपनी दृढ़ता और विश्वास की कहानी से पूरी सभा को प्रेरित किया। उन्होंने दिल से और पूरी ईमानदारी से अधिवेशन की सराहना की। “देश को COVID-19 से एक साथ लड़ने की जरूरत है। लचीलापन और अनुशासन ने सफलता के शिखर तक पहुँचाने में कई लोगों की मदद की है, मेरी भी, और रियल एस्टेट बिरादरी कोई अपवाद नहीं है। आज हमारे सामने आ रही चुनौतियों के बावजूद आप देश की प्रगति में जो योगदान दे रहे हैं, वह हम सब के लिए गर्व का विषय है। हमें हमेशा इसी सद्भावना के साथ आगे बढ़ना चाहिए,” उन्होंने कहा।

COVID-19 प्रतिबंधों के चलते पर्याप्त सावधानी बरती गई और सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन किया गया। अपने इतिहास में पहली बार, विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों से जुड़ने वाले पेशेवरों को अधिक नेटवर्किंग के अवसर प्रदान करने के लिए सम्मेलन को दैहिक और साथ ही डिजिटल रूप से होस्ट किया गया था।

श्री नितिन जैन, अध्यक्ष, एपीपी दिल्ली-एनसीआर, ने कहा “सभी COVID प्रोटोकॉल के पालन के साथ सभी गणमान्य व्यक्तियों और प्रतिनिधियों की यहां उपस्थिति हमें गर्वित करती है। हमें इस बात का अत्यंत खेद भी है कि महामारी के कारण हम इस सम्मेलन में अपनी पूरी बिरादरी को शामिल नहीं कर सके। यह कॉन्क्लेव हमारे गिरकर उठने की हिम्मत और सभी कठिनाइयों के बावजूद आगे बढ़ते रहने के हमारे अटूट विश्वास का प्रतीक है। हमारी यही दृढ़ता हमें हर मुश्किल पर विजय दिलाएगी।”

इस अवसर पर अन्य सरकारी गणमान्य व्यक्तियों और रियल स्टेट उद्योग के दिग्गजों के साथ श्री हरदीप सिंह पुरी, आवास और शहरी मामलों; उड्डयन मंत्रालय; वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) वर्चुअली कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने COVID-युग के दौरान उत्पन्न हुए अवसरों और चुनौतियों पर प्रकाश डाला। देश में लगातार बढ़ रहे COVID मामलों की संख्या को देखते हुए, उन्होंने सभी को, अपने समस्त उद्यमों में, पूरी सावधानी बरतने के लिए प्रोत्साहित किया।

कुल मिलाकर, पहला दिन एक शानदार सफलता थी और कार्यक्रम के दूसरे दिन भी हम आशाजनक, आकर्षक, ज्ञानवर्धक और मजेदार सत्र के लिए तैयार हैं, जिसमें कुछ और विशेष अतिथियों के शामिल होने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here