Onion Price Hike: पेट्रोल के बाद अब प्याज भी रुला रहा महंगाई के आंसू, डेढ़ महीने में कीमत दोगुना

0
87
Webvarta Desk: पेट्रोल और डीजल (Petrol Diesel Price Hiked) की आसमान छूती कीमतों से परेशान आम आदमी को अब प्याज (Onion Price Hiked) भी रुलाने लगा है।

दिल्ली में थोक बाजार में प्याज 50 रुपये किलो बिक (Onion Price Hiked) रहा है जबकि इसकी खुदरा कीमत 65 से 75 रुपये किलो तक पहुंच गई है। पिछले डेढ़ महीने में प्याज की कीमत दोगुनी हो गई है। एशिया की सबसे बड़ी प्याज मंडी लासलगांव में ही प्याज का भाव दो दिन में 1000 रुपये प्रति क्विंटल महंगा हो गया।

मीडिया खबरों के मुताबिक लासलगांव मंडी में प्याज (Onion Price Hiked) का औसत थोक भाव पिछले 2 दिनों में 970 रुपये प्रति क्विंटल बढ़कर 4200-4500 रुपये प्रति क्विंटल पहुंच गया। नासिक के लासलगांव से देश भर में प्याज भेजा जाता है। कुछ समय पहले महाराष्ट्र में बेमौसम बरसात होने और ओले पड़ने की वजह से प्याज की फसल को काफी नुकसान हुआ है। इससे थोक मंडी में प्याज की आवक कम हो गई। प्याज महंगा होने की यही सबसे अहम वजह बताई जा रही है।

और बढ़ सकती है कीमत

शनिवार को लासलगांव में प्याज (Onion Price Hiked) का औसत भाव 4250-4,551 प्रति क्विंटल के करीब था। खरीफ वैरायटी के प्याज के लिए इसका भाव 3,870 रुपये प्रति क्विंटल दर्ज किया गया था। एक व्यापरी के मुताबिक बारिश के चलते प्याज की कीमत में इजाफा हुआ है। 20 फरवरी को लासलगांव मंडी में प्याज के भाव 3,500-4,500 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से बिक रहा था। आने वाले दिनों में प्याज के और महंगा होने की आशंका है। कई व्यापारियों ने बताया कि खरीफ फसलों की आपूर्ति में कमी आई है।

प्याज के दाम (Onion Price Hiked) ऐसे समय में बढ़ रहे हैं जब देशभर में नए कृषि कानून को लेकर किसान धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। इन नए कृषि कानूनों में आवश्यक वस्तु अधिनियम को संसद में संशोधित किया गया था।

पिछले साल आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 (Essential Commodities Act- 1955) के दायरे से आलू, प्याज, दाल-चावल, खाद्य तेल-तिलहन जैसी वस्तुओं को हटा दिया गया है। यानी अब इन वस्तुओं के भंडारण की सीमा (Stock Limit) हट गई है। अब इन वस्तुओं का ज्यादा भंडारण करने पर जेल नहीं होगी। कंपनियां या कोई व्यापारी इन वस्तुओं को किसी भी सीमा तक जमा करने को स्वतंत्र होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here