भारत का वो बैंक जहां कभी नहीं लगता ताला, शनिदेव के चमत्कार के आगे RBI को भी बदलने पड़े नियम

0
134
Webvarta Desk: Lord Shani Temple: महाराष्ट्र के शिंगणापुर (Shani Shinganapur) कस्बे के किसी भी घर औऱ दुकान में दरवाजा नहीं लगा (Lockless Bank) हुआ है। बता दें कि सभी घरों में दरवाजे की जगह सिर्फ चौखट लगी हुई है। यहां पर एक बैंक है, इसमें सदियों से चली आ रही मान्यता के कारण कभी ताला नहीं लगाया जाता।

दिन, रात और छुट्टी भी क्यों न हो इस बैंक के दरवाजे पर कभी ताला नहीं लगाते। इस इलाके (Shani Shinganapur) में भी लोग अपना कीमती सामान (जेवर और पैसा) किसी अलमारी या तिजोरी में नहीं रखते।

बैंक वालों को था चोरी होने का डर

देश में यूको बैंक की एक ऐसी ब्रांच है जिसको देश की पहली लॉकलेस ब्रांच (Lockless Bank) होने का दर्जा हासिल है। ये ब्रांच महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के एक छोटे-से कस्बे शनि शिंगणापुर कस्बे में हैं। इस बैंक में दरवाजे तो हैं, लेकिन कभी भी उनमें ताला नहीं लगाया जाता। यहां पर बैंक में सिर्फ कांच के गेट लगे हुए हैं, ताकि जानवर अंदर ना जा सकें।

यहां के लोगों की मान्यता है कि भगवान ही इस जगह की सुरक्षा करते हैं इसलिए यहां पर कभी ताला नहीं लगाया जाता। ये भी मानना है कि यहां पर कोई चोरी की कोशिश करेगा तो वो अंधा हो जाएगा, इस कारण शिंगणापुर के 15 KM के आसपास के क्षेत्र में कभी चोरी नहीं होती।

सरकार और रिजर्व बैंक ने दी थी नियमों में छूट

यहां पर कभी गेट पर ताले नहीं लगाए जाते इस कारण 2011 से पहले इस कस्बे में किसी भी बैंक ने अपनी ब्रांच नहीं खोली थी। अपने कैश की सिक्युरिटी के कारण कोई भी बैंक यहां पर अपनी ब्रांच खोलने के लिए तैयार नहीं था। सिक्युरिटी रिलेटेड बातों पर गौर करने के बाद DGP और RBI के सीनियर अफसरों ने नियमों में छूट देने के बाद यूको बैंक की ब्रांच खोलने की परमिशन दी और 2011 में यहां यूको बैंक की ब्रांच खोली।

लोग बैंक में ताला लगाने पर नहीं थे राजी

कस्बे के रहने वाले लोगों ने बैंक में ताला ना लगाने की शर्त रखी थी जिसके लिए बैंक, सरकार, लोकल पुलिस और RBI राजी नहीं थी। बैंक की ब्रांच शुरू होने के कुछ समय तक बैंक के अफसरों को डर था इसलिए बैंक ने इसके लिए दिन में भी सिक्युरिटी लगाई थी।

धीरे-धीरे बैंक ने सिक्युरिटी को हटा दिया और अब बैंक के बाहर ग्लास फ्रेम डोर लगाया गया है जिससे कोई जानवर न जाए। कैश को रखने के लिए बैंक के अंदर एक स्ट्रॉन्ग रूम है लेकिन यहां पर आज भी किसी भी समय यहां में ताला नहीं लगता है चाहे बैंक में कितना भी कैश क्यों न रखा हो।

नोट: हमारा उद्देश्य किसी तरह के अंधविश्वास को बढ़ावा देना नहीं है। यह लेख लोक मान्यताओं और पाठकों की रुचि को ध्यान में रखकर लिखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here