पाना चाहते हैं देवी लक्ष्मी की कृपा, तो झाड़ू लगाते समय रखना चाहिए इन 12 बातों का ध्यान

वेबवार्ता: Money Tips: शास्त्रों के अनुसार, झाड़ू में देवी लक्ष्मी वास माना गया है। मान्यतानुसार जिस घर में झाड़ू का अपमान होता है वहां धन की हानि होती है। क्योंकि झाड़ू (Jhadu Tips) में धन की देवी महालक्ष्मी (Goddess Lakshmi) का वास माना गया है।

विद्वानों की मानें तो, झाड़ू (Jhadu Tips) पर पैर लगने से महालक्ष्मी (Goddess Lakshmi) का अनादर होता है। झाड़ू घर का कचरा बाहर करती है और कचरे को दरिद्रता का प्रतीक माना जाता है। जिस घर में पूरी साफ-सफाई रहती है वहां धन, संपत्ति और सुख-शांति रहती है।

इसके विपरित जहां गंदगी रहती है वहां दरिद्रता का वास होता है। वास्तु शास्त्र में झाड़ू से संबंधित कुछ ऐसी बातें बताई गयी है जिसका पालन करने से घर में सदैव लक्ष्मी का वास होता है। साथ ही घर में कभी भी दरिद्रता का साया नहीं मंडराता है।

1: यदि भुलवश झाड़ू को पैर लग जाए तो महालक्ष्मी से क्षमा की प्रार्थना कर लेना चाहिए। जब घर में झाड़ू का इस्तेमाल न हो, तब उसे नजरों के सामने से हटाकर रखना चाहिए।

2: शाम के समय सूर्यास्त के बाद झाड़ू नहीं लगाना चाहिए इससे आर्थिक परेशानी आती है।

3: झाड़ू को कभी भी खड़ा नहीं रखना चाहिए, इससे कलह होता है।

4: झाड़ू हमेशा साफ रखें ,गिला न छोड़ें। ऐसा करना घर में घर में दरिद्रता लाती है।

5: ज्यादा पुरानी झाड़ू को घर में न रखें। किसी एकांत जगह या जमीन में दबा दें।

6: झाड़ू को कभी घर के बाहर बिखराकर ना फेके और इसको जलाना भी नहीं चाहिए।

7: झाड़ू को हमेशा छिपाकर रखना चाहिए। ऐसी जगह पर रखना चाहिए जहां से झाड़ू हमें, घर या बाहर के किसी भी सदस्यों को दिखाई नहीं दें।

8: गौ माता या अन्य किसी भी जानवर को झाड़ू से मारकर कभी भी नहीं भगाना चाहिए।

9: परिवार के सदस्य अगर किसी खास कार्य से घर से बाहर निकले हो तो उनके जाने के उपरांत तुरंत झाड़ू नहीं लगाना चाहिए।

10: शनिवार को पुरानी झाड़ू बदल देना चाहिए।

11: घर के मुख्य दरवाजा के पीछे एक छोटी झाड़ू टांगकर रखना चाहिए। इससे घर में लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।

12: पूजा घर के ईशान कोण में झाडू व कूड़ेदान आदि नहीं रखना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से घर में नकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है।

नोट: हमारा उद्देश्य किसी तरह के अंधविश्वास को बढ़ावा देना नहीं है। यह लेख लोक मान्यताओं और पाठकों की रुचि को ध्यान में रखकर लिखा गया है।

पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News)| Webvarta की ताजा खबरों के लिए हमें Google News पर फॉलो करें |

Similar Articles