आज अहम फैसला, रिया ने सुशांत की बहनों पर लगाए थे फर्जी प्रिस्‍क्रिप्‍शन से दवा देने के आरोप

0
80
Webvarta Desk: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput Case) की मौ’त मामले में आज सोमवार को एक फैसला आना है। इस केस की मुख्य आरोपी रहीं रिया चक्रवर्ती ने सुशांत की बहनों (Sushant Sisters) पर बिना मेडिकल सलाह और फिजिकल कंसल्टेशन के दवा देने के आरोप लगाया था। पिछले साल सितम्बर में दर्ज करवाई गई इस शिकायत पर आज सोमवार को बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) की तरफ से फैसला सुनाया जाएगा।

पिछले साल सितम्बर में इस केस की मुख्य आरोपी रहीं रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) ने सुशांत की बहन (Sushant Sisters) प्रियंका, मीतू और एक डॉक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी।

रिया (Rhea Chakraborty) का आरोप था कि सुशांत की बहनें (Sushant Sisters) बिना डॉक्टर की सलाह के उनको ऐंटी-डिप्रशन की दवाइयां दे रही थीं। रिया ने इस आरोप में कहा था जून में सूइसाइड से पहले एक गलत प्रिस्‍क्रिप्‍शन का इस्‍तेमाल किया गया ताकि सुशांत नारकोटिक ड्रग्‍स और साइकोट्रोपिक सब्‍सटेंसेस ऐक्‍ट के तहत बैन दवाइयां ले सकें।

इसके बाद सुशांत की बहनों (Sushant Sisters) ने हाई कोर्ट की ओर रुख किया था और इस एफआईआर को रद्द करने की मांग की थी। सुशांत के फैमिली वकील विकास सिंह ने बताया था कि रिया की एफआईआर ‘काउंटर केस’ था क्योंकि वह खुद सीबीआई की जांच के घेरे में हैं।

इस केस पर सीबीआई का कहना था कि अगर रिया को सुशांत और बहन प्रियंका के बीच जून 2020 में हुई मोबाइल फोन चैट के बारे में पता था और अगर उसी दौरान प्रियंका ने सुशांत को झूठा प्रिस्‍क्रिप्‍शन भेजा था तो रिया को सितंबर तक इस बारे में चुप्‍पी साधे नहीं रखनी चाहिए थी।

ऐक्टर की बहनों की याचिका पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने इससे पहले कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत एक शांत, निर्दोष और बहुत अच्छे इंसान थे। जस्टिस एस एस शिंदे और जस्टिस एम एस कार्णिक की पीठ ने राजपूत की बहनों प्रियंका सिंह और मीतू सिंह की याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रखते हुए यह टिप्पणी की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here