इजराइली सुरक्षाबलों और फिलिस्तीनी आतंकियों के बीच भीषण गोलाबारी, एक आतंकी को मार गिराया

Israel-Palestine: इजराइल और फिलिस्तीन के बीच तनाव लगातार जारी है। इसी बीच ताजा कड़ी में इजराइली बलों ने शुक्रवार को अशांत उत्तरी वेस्ट बैंक में एक फिलिस्तीनी आतंकवादी को मार गिराया। फिलिस्तीनी अधिकारियों ने कहा, पिछले डेढ़ साल से कब्जे वाले क्षेत्र में फैली हिंसा के सिलसिले में यह ताजा मौत है, जो दो दशकों में हैरान करने वाले स्तर तक बढ़ गई है।

उग्रवादी इस्लामिक जिहाद समूह ने बताया कि उनके एक जवान की इजराइली बलों से भिड़ंत में मौत हो गई है। मृतक की पहचान 18 वर्षीय अब्दुल्ला अबू हसन के रूप में हुई है। फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि हसन को वेस्ट बैंक शहर जेनिन के उत्तर में एक फिलिस्तीनी गांव में शुक्रवार की सुबह इजरायली बलों द्वारा पेट में गोली मार दी गई थी।

भीषण गोलाबारी, सैनिकों पर आतंकियों ने फेंके बम

इजराइली सेना ने कहा कि यह घटना वेस्ट बैंक में रात के समय छापेमारी के दौरान हुई, जब फिलिस्तीनियों ने काफ़र दान शहर में सैनिकों पर गोलीबारी की और बम फेंके। सैनिकों ने जवाबी गोलीबारी की। इस गोलीबारी के दौरान हसन को मार गिराया गया। सेना ने यह भी कहा कि उन्हें गुरुवार रात एक विस्फोटक मिला। हालांकि उसे  निष्क्रिय कर दिया गया। इस मामले में चार संदिग्धों को गिरफ्तार किया और उनसे दो हथियार जब्त किए। यह ऑपरेशन इजराइल द्वारा वेस्ट बैंक के फिलिस्तीनी क्षेत्रों में की जा रही छापेमारी की ताजा कड़ी है। छापेमारी के बीच इजराइल का दावा है कि इस तरह के छापे आतंकवाद को जड़ से खत्म कर देते हैं और भविष्य के हमलों को विफल कर देते हैं।

फिलिस्तीन से तनाव के बीच अरब और इजराइल की बढ़ रही करीबी

गौरतलब है कि एक ओर इजराइल और फिलिस्तीन के बीच तनाव जारी है। वहीं दूसरी ओर इजराइल और सउदी अरब के बीच करीबी और बढ़ती जा रही है। संयुक्त राष्ट्र में इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने बयान दिया कि उनके देश और सउदी अरब के बीच संबंध ‘नई इबारत’ लिखने के करीब हैं।

नेतान्याहू ने शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए कहा कि ‘इजराइल और सऊदी अरब के बीच शांति से वाकई नये ‘पश्चिम एशिया’ का निर्माण होगा।’ अमेरिका एक ऐसा करार कराने के लिए प्रयासरत है, जिसमें सऊदी अरब इजराइल के साथ अपना संबंध सामान्य बना लेगा और उसके बदले में उसे अमेरिका से एक रक्षा समझौता एवं असैन्य परमाणु कार्यक्रम के विकास में मदद मिलेगी।

Leave a Comment