भारत के Rafale की मार से डरा पाकिस्तान, 551 KM पीछे अपग्रेड कर रहा एयरबेस

0
151
Webvarta Desk: Rafale Fighter Jets: भारत के साथ जारी तनाव के बीच पाकिस्तान (India Pakistan Tension) इन दिनों अपनी सामरिक शक्ति को बढ़ाने में जुटा है। लगातार 4 मिसाइलों को टेस्ट करने और राजस्थान सीमा के नजदीक युद्धाभ्यास के बाद पाकिस्तान अब अंबाला से 551 किलोमीटर दूर स्थित मियांवाली एयरबेस को अपग्रेड कर रहा है।

सैटेलाइट तस्वीरों से खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान (Pakistan) पंजाब प्रांत के इस एयरबेस पर नए पेट्रोलियम डिपो बनाने के साथ यहां की ऑपरेशनल क्षमता को भी तेजी से बढ़ा रहा है। पाकिस्तान ने भारत के साथ 1965 के युद्ध में इस एयरबेस का उपयोग किया था।

मियांवाली एयरबेस को ताकतवर बना रहा पाकिस्तान

ओपन सोर्स इंटेलिजेंस @detresfa_ की सैटेलाइट इमेज से खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान (Pakistan) ने मियांवाली एयरबेस के उत्तर में कम से कम चार पेट्रोलियम डिपो बना रहा है। इसका सीधा मतलब यह है कि पाकिस्तानी एयरफोर्स इस एयरबेस की ऑपरेशनल क्षमता को बढ़ाने की तैयारी कर रही है।

यहां पहले से चीन में बने हुए एंटी स्टील्थ रेडार तैनात हैं। इसके अलावा चीनी ड्रोन अक्सर मियांवली एयरबेस से उड़ान भरते दिखाई देते हैं। ऐसे में अगर पाकिस्तान इस बेस को और ताकतवर बना रहा है तो भारत की चिंताएं बढ़ सकती है।

इस एयरबेस को क्यों मजबूत कर रहा पाकिस्तान

पाकिस्तान को डर है कि भारतीय वायुसेना (Indian Airforce) के राफेल लड़ाकू विमान (Rafale Fighter Jets) बॉर्डर के पास स्थित उसके एयरबेसों को आसानी से निशाना बना सकते हैं। इन बेसों से उड़ान भरने वाले पाकिस्तानी लड़ाकू विमान भारत के बियॉन्ड विजुअल रेंज मिसाइलों की जद में हैं।

बड़ी बात यह है कि ऐसे हमले करने के लिए भारतीय लड़ाकू विमानों को पाकिस्तान में घुसना भी नहीं पड़ेगा। इसी से डरकर पाकिस्तान अब राफेल लड़ाकू विमान के बेस अंबाला से 551 और पठानकोट से 384 किमी दूर स्थित इस एयरबेस को अपग्रेड कर रहा है।

भारत के सामने बौनी है पाकिस्तानी वायुसेना

पाकिस्तान के पास अभी तक कोई ऐसा लड़ाकू विमान नहीं है जो भारत के राफेल लड़ाकू विमान को टक्कर दे सके। पाकिस्तानी वायुसेना के पास सबसे ताकतवर लड़ाकू विमान अमेरिकी एफ-16 है। जिनमें से कई अभी स्पेयर पार्ट्स के न मिलने के कारण उड़ान नहीं भर सकते हैं।

बताया जाता है कि पाकिस्तान के पास 40 में से अभी कुल 34 एफ-16 फाइटर जेट ही बचे हैं। यह विमान राफेल और सुखोई-30 एमकेआई की जोड़ी के आगे नहीं टिक पाएगा। रही बात चीन के जेएफ-17 की तो उससे तो भारत का स्वदेशी तेजस निपट लेगा।

राफेल से पाकिस्तान को क्यों है डर

राफेल लड़ाकू विमान के पास कई ऐसी घातक मिसाइलें हैं जो पाकिस्तानी वायुसेना के लड़ाकू विमान और उनके एयरबेस को पल भर में बर्बाद कर सकती हैं। हवा में बादशाहत रखने वाले इस लड़ाकू विमान को रोकने के लिए पाकिस्तान के पास कोई शक्तिशाली एयर डिफेंस सिस्टम भी नहीं है।

राफेल में लगी माइका मिसाइल ( MBDA MICA Missile) 500 मीटर से 80 किलोमीटर की दूरी में हवा में उड़ रहे किसी भी टारगेट को हिट कर सकती है। इसके अलावा बंकरों को बर्बाद करने वाली हैमर मिसाइल (Hammer Missile) भी 20 से 70 किमी की दूरी तक सटीक मार कर सकती है। राफेल में लगी हवा से हवा में मार करने वाली मिटिओर मिसाइल (Meteor Missile) भी काफी खतरनाक है। यह 100 किलोमीटर की दूरी पर उड़ रहे दुश्मन को पलक झपकते खत्म कर सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here