Ind vs Eng 4th T20: रोमांचक मैच में भारत ने इंग्लैंड को 8 रनों से हराया, सूर्यकुमार-शार्दुल रहे जीत के हीरो

0
138
Webvarta Desk: भारतीय टीम (Team India) ने अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम (Narendra Modi Stadium) में खेले गए रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड को हराते (IND vs ENG 4th T20I) हुए सीरीज में जोरदार वापसी की है। भारत ने सूर्यकुमार यादव (57) की हाफ सेंचुरी की बदौलत 8 विकेट पर 185 रन बनाए थे।

जवाब में इंग्लैंड ने शुरुआत तो दमदार की, लेकिन 17वें ओवर में शार्दुल ठाकुर ने पहले बेन स्टोक्स (46) और फिर कप्तान इयोन मोर्गन (4) को लगातार दो गेंदों में चलता करते हुए मैच (IND vs ENG 4th T20I) का पासा ही पलट दिया। इसके बाद उन्होंने आखिरी ओवरों में 23 रन भी बचाए। भारत ने यह मुकाबला 8 रनों से अपने नाम किया और सीरीज 2-2 से बराबर कर ली।

आखिरी ओवर का रोमांच, शार्दुल ने जितवा दिया मैच

इंग्लैंड को जीत के लिए आखिरी ओवर में 23 रन चाहिए थे। शार्दुल ठाकुर के इस ओवर में जोफ्रा आर्चर ने दूसरी गेंद पर फोर और फिर तीसरी गेंद पर सिक्स लगाकर इंग्लैंड को मैच (IND vs ENG 4th T20I) में ला दिया। अब आखिरी 3 गेंद पर 12 रन चाहिए थे।

शार्दुल ने दो गेंदें वाइड कर दी तो 3 गेंद पर 10 रन हो गए। यहां नियमित कप्तान विराट कोहली मैदान से बाहर थे, जबकि रोहित शर्मा लगातार शार्दुल से बातचीत कर रहे थे। उसका फायदा भी हुआ। बेहद चतुराई से ठाली गई चौथी गेंद पर आर्चर एक रन के साथ नॉन स्ट्राकिंग ऐंड पर चले गए तो भारतीय खेमे ने राहत की सांस ली। दो गेंद पर अब इंग्लैंड को 9 रन चाहिए थे। जॉर्डन अगली गेंद पर कैच आउट हो गए। अब मैच पूरी तरह से भारत के पक्ष में आ गया। आखिरी गेंद पर आर्चर कोई रन नहीं बनाए पाए।

इंग्लैंड की तरफ से आर्चर सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 33 रन देकर चार विकेट लिए, लेकिन उसका कोई भी बल्लेबाज लंबी पारी नहीं खेल पाया। जेसन रॉय (27 गेंदों पर 40, छह चौके, एक छक्का) और बेन स्टोक्स (23 गेंदों पर 46, चार चौके, तीन छक्के) ने भारत के समीकरण बिगाड़ने की कोशिश की जबकि आर्चर (आठ गेंदों पर नाबाद 18) ने मैच को रोमांचक बनाया लेकिन आखिर में इंग्लैंड आठ विकेट पर 177 रन तक ही पहुंच पाया।

भारत की तरफ से पंड्या ने चार ओवर में 16 रन देकर दो विकेट लिए। ठाकुर (42 रन देकर तीन) भारत के सबसे सफल गेंदबाज रहे जबकि लेग स्पिनर राहुल चहर ने 35 रन देकर दो विकेट हासिल किए। भुवनेश्वर कुमार ने 30 रन देकर एक विकेट लिया। भुवनेश्वर ने पिछले मैच के नायक जोस बटलर (नौ) को शुरू में चलता कर दिया लेकिन रॉय ने कुछ करारे शॉट जमाकर रन गति बनाए रखी। जिससे इंग्लैंड ने पावरप्ले में 48 रन बनाए।

पावरप्ले के बाद गेंद संभालने वाले चहर ने अपने पहले ओवर में ही गुगली पर डेविड मलान (17 गेंदों पर 14) को बोल्ड किया जो उसे रिवर्स स्वीप करना चाहते थे। पंड्या ने रॉय को पटकी गेंद पर डीप मिडविकेट खड़े सूर्यकुमार के हाथों कैच कराकर इंग्लैंड पर दबाव बना दिया। स्टोक्स ने दोनों स्पिनरों वॉशिंगटर सुंदर और चहर पर छक्के जड़कर इंग्लैंड की उम्मीदें जगायी जबकि जॉनी बेयरस्टो (25) ने सुंदर के आखिरी ओवर में दो चौके और छक्का लगाकर उनका गेंदबाजी विश्लेषण बिगाड़ दिया। सुंदर ने चार ओवर में 52 रन लुटाए।

चहर ने बेयरस्टो का विकेट लेकर अपना गेंदबाजी विश्लेषण सुधारा। स्टोक्स और बेयरस्टो ने चौथे विकेट के लिए 65 रन जोड़े। ठाकुर ने स्टोक्स और इयोग मोर्गन (चार) को लगातार गेंदों पर आउट करके भारत का पलड़ा भारी कर दिया। इन दोनों ने ऑफ कटर पर आसान कैच दिए। इंग्लैंड को आखिरी ओवर में 23 रन चाहिए थे। आर्चर ने ठाकुर पर चौका और छक्का लगाया लेकिन इससे हार का अंतर ही कम हुआ।

भारत की पारी का रोमांच

इससे पहले सूर्यकुमार यादव के आकर्षक अर्धशतक और श्रेयस अय्यर की आखिरी क्षणों की तेजतर्रार पारी से भारत ने जोफ्रा आर्चर के झटकों के बावजूद इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में गुरुवार को यहां आठ विकेट पर 185 रन बनाए। ईशान किशन के चोटिल होने से टीम में जगह बनाने वाले सूर्यकुमार ने विवादास्पद तरीके से आउट दिए जाने से पहले 31 गेंदों पर 57 रन बनाए जिसमें छह चौके और तीन छक्के शामिल हैं।

उनके अलावा श्रेयस अय्यर (18 गेंदों पर 37 रन, पांच चौके, एक छक्का) और ऋषभ पंत (23 गेंदों पर 30 रन, चार चौके) ने उपयोगी योगदान दिया। इंग्लैंड की तरफ से आर्चर सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 33 रन देकर चार विकेट लिए।

भारत को पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा ने आदिल राशीद की मैच की पहली गेंद लॉग ऑफ पर छक्के के लिए भेजी। उन्होंने इस बीच टी20 क्रिकेट में 9000 रन भी पूरे किए लेकिन उनकी पारी लंबी नहीं खिंची। आर्चर की धीमी लेग कटर पर उन्होंने वापस गेंदबाज को आसान कैच दे दिया। उनकी जगह लेने के लिए उतरे सूर्यकुमार ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहली गेंद ही छक्के के लिए भेजी।

उन्होंने इसके बाद भी बेपरवाह बल्लेबाजी की और लेग स्पिनर राशीद पर भी छक्का जड़ा लेकिन दूसरे छोर से केएल राहुल (17 गेंदों पर 14) और कप्तान विराट कोहली (एक) के लगातार ओवरों में आउट होने से भारत का स्कोर तीन विकेट पर 70 रन हो गया। राहुल लगातार चौथे मैच में नाकाम रहे। वह बेन स्टोक्स की धीमी गेंद को नहीं समझ पाए और मिड ऑफ पर आसान कैच दे बैठे। कोहली को राशीद ने गुगली पर गच्चा दिया और जोस बटलर ने उन्हें आसानी से स्टंप आउट किया।

सूर्यकुमार ने दूसरे छोर से लय बनाए रखी। उन्होंने राशीद की गेंद पॉइंट क्षेत्र से चार रन के लिए भेजकर केवल 28 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया। वह टी20 अंतरराष्ट्रीय में अपनी पहली पारी में अर्धशतक जड़ने वाले पांचवें भारतीय बल्लेबाज हैं। इसके बाद पंत ने स्टोक्स पर दो चौके लगाकर 13वें ओवर में स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया।

सूर्यकुमार का विवादित आउट

सूर्यकुमार का सैम करेन पर फाइन लेग पर लगाया गया छक्का उनके आत्मविश्वास का प्रतीक था लेकिन उन्हें विवादास्पद तरीके से आउट दिया गया। अगली गेंद पर डेविड मलान ने सीमा रेखा पर उनका कैच लिया जिसमें रीप्ले से साफ लग रहा था कि गेंद ने जमीन को स्पर्श किया है लेकिन कई कोण से रीप्ले देखने के बाद तीसरे अंपायर ने मैदानी अंपायर का आउट का फैसला बने रहने दिया।

आर्चर ने पंत को गुडलेंथ गेंद पर बोल्ड किया, लेकिन अय्यर शुरू से आक्रामक मूड में दिखे। उन्होंने और हार्दिक पंड्या (11) ने क्रिस जोर्डन के 18वें ओवर में छक्के जड़कर 18 रन बटोरे। ए दोनों हालांकि तीन गेंद के अंदर आउट हो गए जिससे भारत आखिरी दो ओवरों में 18 रन ही बना पाया। शार्दुल ठाकुर 10 रन बनाकर नाबाद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here