Ind vs Eng 5th T20: भारत के विशाल स्कोर के आगे फिरंगी ढेर, विराट सेना ने 36 रन से हराकर जीती सीरीज

0
167
Webvarta Desk: भारतीय टीम (Team India) ने इंग्लैंड को 5वें और फाइनल टी-20 मुकाबले (IND vs ENG 5th T20) में 36 रनों से हराकर 3-2 से सीरीज अपने नाम कर ली। मैच में टीम इंडिया ने अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम (Narendra Modi Stadium) में कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और उपकप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की तूफानी हाफ सेंचुरी की बदौलत 2 विकेट पर 224 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था।

जवाब में इंग्लिश टीम ने डेविड मलान (68) और जोश बटलर (52) के दम पर फाइट तो की, लेकिन भुवनेश्वर कुमार (15/2) की अगुवाई में भारतीय गेंदबाजों (IND vs ENG 5th T20) ने उसे 8 विकेट के नुकसान पर 188 रनों तक ही पहुंचने दिया।

पहले ही ओवर में विकेट, फिर यूं संभले अंग्रेज

225 रनों के विशाल स्कोर का पीछा करने उतरी इंग्लिश टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसे पहले ही ओवर में की दूसरी गेंद पर भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) ने बड़ा झटका दिया। भुवी ने जेसन रॉय (Jason Roy) को खाता खोलने से पहले ही बोल्ड कर दिया। यह विकेट जब गिरा तो इंग्लिश पारी का भी खाता नहीं खुला था। लेकिन इसके बाद डेविड मलान और जोश बटलर ने मोर्चा संभाला और टीम को चौके-छक्के की बरसात करते हुए रफ्तार दे दी।

मलान और बटलर का तूफान

इस जोड़ी की तूफानी बैटिंग का आलम ऐसा था कि इंग्लैंड ने 4.3 ओवर में पचास और 9.3 ओवरों में 100 रन पूरे कर लिए। दुनिया के नंबर वन टी-20 बल्लेबाज डेविड मलान ने 11वें ओवर की पहली गेंद पर टी. नटराजन को चौका जड़ते हुए 33 गेंदों में हाफ सेंचुरी पूरी की। इसके बाद इसी ओवर में सिक्स और फोर भी उड़ाए, जिससे 11 ओवर के बाद इंग्लैंड का स्कोर एक विकेट पर 120 रन हो गया।

भुवनेश्वर ने कराई टीम इंडिया की वापसी

जोश बटलर तो अपने साथी मलान से भी एक कदम आगे रहे। उन्होंने 30 गेंदों में ही हाफ सेंचुरी पूरी की। खतरनाक होती इस जोड़ी को भुवनेश्वर कुमार ने तोड़ा। 13वें ओवर की 5वीं गेंद पर भुवी ने बटलर को हार्दिक पंड्या के हाथों कैच कराया। उन्होंने 34 गेंदों में 2 चौके और 4 छक्के की मदद से तूफानी अंदाज में 52 रनों की पारी खेली। सीरीज में यह तीसरा मौका था जब वह भुवी के शिकार बने।

शार्दुल ने एक ओवर में किए दो शिकार

पिछले मैच में एक ही ओवर में दो बल्लेबाजों को आउट करके भारत की वापसी कराने वाले शार्दुल ठाकुर ने एक बार फिर उसी प्रदर्शन को दोहराया। 15वें ओवर में जब गेंद कप्तान विराट ने उन्हें सौंपी तो उन्होंने पहले बेयरस्टो (7) को सूर्यकुमार के हाथों कैच आउट कराया और फिर ओवर की आखिरी गेंद पर सेट बल्लेबाज डेविड मलान को बोल्ड कर दिया। मलान ने 46 गेंदों में 9 चौके और 2 छक्के की मदद से 68 रनों की पारी खेली। इस दौरान वह टी-20 इंटरनैशनल में 1000 रन बनाने वाले दुनिया के सबसे तेज बल्लेबाज भी बने।

इसके बाद हार्दिक पंड्या ने विपक्षी टीम के कप्तान इयोन मोर्गन (1) को आउट करते हुए इंग्लैंड को बड़ा झटका दे दिया। अब रनों का दबाव इतना था कि बेन स्टोक्स 12 गेंदों में 14 रन बनाकर टी. नटराजन के शिकार बने। यहां मैच पूरी तरह भारत के पक्ष में हो चुका था। भारत के लिए शार्दुल ठाकुर ने 3 विकेट झटके, जबकि किफायती रहे भुवनेश्वर के नाम दो विकेट रहे।

इंग्लैंड को मिला 225 रन का लक्ष्य, रोहित-विराट की फिफ्टी

इससे पहले सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा की 64 रन की शानदार पारी के बाद कप्तान विराट कोहली की नाबाद 80 रन की पारी से भारत ने शनिवार को यहां पांचवें और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में दो विकेट पर 224 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। यह भारत का इस सीरीज में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी प्रयास भी है। सीरीज में चौथी बार टॉस गंवाने के बाद भारत को बल्लेबाजी का न्यौता मिला।

इंग्लैंड के खिलाफ भारत का सर्वश्रेष्ठ स्कोर

टी20 विश्व कप की तैयारियों में जुटी भारतीय टीम सभी परिस्थितियों में सफलता हासिल करना चाहती है और उसने टी20 अंतरराष्ट्रीय में इंग्लैंड के खिलाफ अपना सबसे बड़ा स्कोर भी खड़ा किया। जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड ने शुरू के मैचों में अपनी तेज रफ्तार से भारतीयों को परेशान किया था लेकिन रोहित (34 गेंद में 64 रन) और कोहली (52 गेंद में नाबाद 80 रन) ने इनके खिलाफ आक्रामक रवैया अपनाते हुए पहले विकेट के लिए 94 रन की साझेदारी बनायी।

सूर्यकुमार और हार्दिक की तेज तर्रार पारी

उनके अलावा सूर्यकुमार यादव (17 गेंद में 32 रन) और हार्दिक पंड्या (17 गेंद में नाबाद 39 रन) ने भी योगदान दिया। मेजबानों ने अंतिम पांच ओवरों में 67 रन जोड़कर विपक्षी टीम को जीत के लिए विशाल लक्ष्य दिया। बेन स्टोक्स और आदिल रशीद को छोड़कर इंग्लैंड के सभी गेंदबाजों ने 10 रन प्रति ओवर से ज्यादा लुटाए जिसमें क्रिस जोर्डन (57 रन देकर कोई विकेट नहीं) सबसे ज्यादा खर्चीले रहे।

रोहित और विराट ने जोड़े 94 रन

केएल राहुल की गैरमौजूदगी में कोहली ने रोहित के साथ पारी का आगाज करने का फैसला किया जो टीम के लिए काफी बढ़िया साबित हुआ और इन दोनों ने 54 गेंद में 94 रन जोड़े। इस भागीदारी में रोहित से ज्यादातर रन बटोरे और कोहली दूसरे छोर पर स्ट्रोक्स भरी पारी का लुत्फ उठाते दिखे। पहले दो मैचों में रोहित को आराम दिया गया था लेकिन वह अगले दो मैचों में कुछ अच्छा नहीं कर सके लेकिन उन्होंने बड़े मैच में अपनी ख्याति के अनुरूप पारी खेली।

रोहित की तूफानी पारी

रोहित ने अपने पांचों छक्के अपने ‘ट्रेडमार्क’ शॉट से लगाए। उनके स्ट्रेट ड्राइव्स भी काफी मनोरंजक रहे जिसमें पहले ही ओवर में मार्क वुड पर लगा शॉट था। कोहली ने भी वुड की गेंद को स्टैंड तक पहुंचाया जिसके बाद वह काफी जोश में भर गए। रोहित ने अपना अर्धशतक छक्का लगाकर किया जो बिलकुल भी हैरानी भरा नहीं था। लेकिन इसके बाद वह स्टोक्स की गेंद पर बोल्ड हो गए।

यूं स्कोर 200 के पार

इसके बाद कोहली ने अपनी पारी को खूबसूरत ढंग से आगे बढ़ाया जिसमें उन्हें दूसरे छोर पर सूर्यकुमार का साथ मिला जिन्होंने अपने पदार्पण मैच की लय को यहां भी जारी रखा। मुंबई के इस बल्लेबाज ने लेग स्पिनर आदिल रशीद पर लगातार दो छक्के जड़े। इसके बाद जोर्डन पर लगातार तीन चौके जमाए जिससे इस ओवर में 19 रन बने और तब भारत का स्कोर 12 ओवर में एक विकेट पर 133 रन था। कोहली ने फिर हार्दिक के साथ मिलकर भारत को 200 रन के पार कराया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here