IND vs ENG T20: हार के बाद विराट को पिच में नजर आ रहा दोष! बोले- इस विकेट पर कैसे खेलना है, पता नहीं था

0
191
Virat Kohli
Webvarta Desk: भारतीय टीम को सीरीज के पहले टी20 में इंग्लैंड (IND vs ENG T20) के हाथों शुक्रवार को करारी शिकस्त झेलनी पड़ी। अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम (Narendra Modi Cricket stadium) में 8 विकेट से मिली हार के बाद टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली (Virat Kohli) ने माना कि पहले टी20 में इस पिच पर परिस्थितियों से कैसे निपटना है, इस बारे में उन्हें कुछ समझ नहीं आया था।

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया और मेजबान टीम ने श्रेयस अय्यर (67) के अर्धशतक की मदद से सात विकेट पर 124 रन बनाए। इंग्लैंड ने आराम से लक्ष्य का पीछा करते हुए 15.3 ओवर में 2 विकेट पर 130 रन बनाए और मैच जीतकर सीरीज में 1-0 की बढ़त भी ले ली।

विराट कोहली (Virat Kohli), लोकेश राहुल (Lokesh Rahul) और ओपनर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) खराब शॉट खेलने के कारण सस्ते में पविलियन लौटे, जिसके बारे में भारतीय कप्तान ने चिंता जताई। मैच के बाद कोहली ने कहा, ‘हमें इस पिच पर क्या करना है, इसके बारे में हमें कुछ पता नहीं था। हम अपने शॉट्स ही सही से नहीं खेल पाए और भी बहुत कुछ है, जिसका समाधान हमें निकालना चाहिए।’

भारतीय कप्तान ने आगे कहा, ‘अपनी गलतियों को स्वीकार करें और पूरे जोश के साथ वापसी करें। जिस तरह के शॉट आप लगाना चाहते हैं, उन पर ही फोकस करें। इस तरह की विकेट आपको उन शॉट्स को हिट करने की अनुमति नहीं देता, जो हम चाहते थे।’

श्रेयस अय्यर ने 67 रन की शानदार पारी खेली जिस पर विराट ने खुशी जताई। अय्यर ने 48 गेंदों का सामना किया और 8 चौके, 1 छक्का जड़ा। उनके अलावा ऋषभ पंत ने 21 और हार्दिक पंड्या ने 19 रन का योगदान दिया। धवन (4), राहुल (1) और विराट (0) उम्मीद पर खरे नहीं उतरे।

विराट ने कहा, ‘श्रेयस ने दिखाया कि विकेट का इस्तेमाल कैसे करते हैं और बाउंसी पिच पर कैसे शॉट खेले जाते हैं। हमने कुछ चीजों को आजमाना चाहा, लेकिन परिस्थितियों को स्वीकार करना होगा।’

उन्होंने आगे कहा, ‘अगर पिच आपको अनुमति देती है, तो ही आप आक्रामक होकर खेल सकते हैं। हमने पर्याप्त समय नहीं लिया और श्रेयस ने इसका इस्तेमाल किया लेकिन हमने 150-160 तक पहुंचने से पहले ही काफी विकेट खो दिए।’

यह पूछे जाने पर कि क्या टेस्ट से सबसे छोटे फॉर्मेट में स्विच करना भारत के संघर्ष का एक कारण था, कोहली ने इस पर असहमति जताई। उन्होंने कहा, ‘यह एक कारण नहीं होना चाहिए, वाइट-बॉल क्रिकेट खेलने में गर्व करना चाहिए और हमने पिछली कुछ टी20 सीरीज जीती हैं। वर्ल्ड कप से पहले इन 5 मैचों में और कुछ चीजें करने की कोशिश करनी होगी, इंग्लैंड के खिलाफ कुछ भी हल्का नहीं ले सकते।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here