IPL 2021, RCB vs RR: पडिक्कल की सेंचुरी, कोहली का कमाल, बैंगलोर ने राजस्थान को 10 विकेट से रौंदा

0
176

Webvarta Desk: IPL 2021, RCB vs RR: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) ने देवदत्त पडिक्कल (नाबाद 101 रन) के पहले शतक और कप्तान विराट कोहली (नाबाद 72 रन) की शानदार अर्धशतकीय पारी से गुरुवार को इंडियन प्रीमियर लीग टी20 मैच में राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) को 21 गेंद रहते 10 विकेट से करारी शिकस्त दी।

बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) की इस सत्र में उसकी यह लगातार चौथी जीत है। राजस्थान रॉयल्स (IPL 2021, RCB vs RR) शीर्ष क्रम की विफलता के बावजूद नौ विकेट पर 177 रन बनाने में सफल रही थी।

181 रनों की साझेदारी और जीता RCB

बल्लेबाजों के लिए मददगार इस पिच पर यह लक्ष्य चुनौतीपूर्ण नहीं था और वो भी पिछले सभी मैचों में जीत से आत्मविश्वास से भरी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए तो बिलकुल नहीं। पडिक्कल और कोहली के बीच पहले विकेट के लिए 181 रन की साझेदारी टीम की लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे बड़ी भागीदारी भी रही। टीम ने 16.3 ओवर में 181 रन बनाकर जीत दर्ज की। टीम इस तरह चारों मैचों में जीत से आठ अंक लेकर तालिका में शीर्ष पर पहुंच गयी।

कोहली की ऐतिहासिक पारी

कोहली ने पारी के पहले ही ओवर में लेग स्पिनर श्रेयस गोपाल की गेंद को छक्के के लिए उठाकर बड़ी पारी खेलने के इरादे जाहिर कर दिए थे। उन्होंने पडिक्कल को इस साझेदारी में आक्रामक होने दिया और वह दूसरे छोर पर बीच बीच में शॉट लगाकर उनका साथ निभाते रहे। लेकिन अंत में उन्होंने अपनी पारी को तेजी दी जिसमें उन्होंने 47 गेंद का सामना करते हुए छह चौके और तीन छक्के जमाए। इस दौरान कोहली ने 51वां रन बनाने के साथ आईपीएल में 6 हजार रन भी पूरे किए। वह ऐसा करने वाले पहले बल्लेबाज हैं।

पडिक्कल का रेकॉर्ड शतक

पडिक्कल का यह आईपीएल में पहला शतक है जिसके लिए उन्होंने 52 गेंदों का सामना किया और इसमें 11 चौके और छह छक्के लगाए। वह आईपीएल में सैकड़ा लगाने वाले तीसरे युवा बल्लेबाज हैं, जबकि लक्ष्य का पीछा करते हुए वह ऐसा करने वाले सबसे युवा हैं। इस प्रदर्शन के लिए इस 20 वर्षीय खिलाड़ी को ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया। साथ ही यह आरसीबी के लिए 14वां शतक था जो किसी भी आईपीएल फ्रैंचाइजी के सबसे ज्यादा शतक भी हैं।

पिछले मैचों में प्रदर्शन से राजस्थान रॉयल्स के हौसले वैसे ही पस्त थे लेकिन उसके गेंदबाजों का प्रदर्शन इतना खराब नहीं रहा था। पर इस मैच में कोई भी गेंदबाज एक भी विकेट नहीं झटक सका। इस तरह टीम तालिका में सबसे निचले स्थान पर पहुंच गयी।

राजस्थान की पारी का रोमांच

राजस्थान रॉयल्स की टीम शीर्ष क्रम की विफलता के बावजूद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ नौ विकेट पर 177 रन बनाने में सफल रही। लगातार तीन मैचों में जीत से आत्मविश्वास से भरी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के गेंदबाजों ने कप्तान विराट कोहली के टॉस जीतकर गेंदबाजी करने के फैसले को सही साबित करते हुए शुरुआत में विकेट झटके। उसके लिए मोहम्मद सिराज ने 27 रन देकर तीन विकेट चटकाए जबकि हर्षल पटेल ने अंतिम ओवर में दो विकेट से 47 रन देकर कुल तीन विकेट हासिल किए। काइल जैमीसन, केन रिचर्डसन और वाशिंगटन सुंदर को एक एक विकेट मिला।

राजस्थान रॉयल्स की बल्लेबाजी एक समस्या बनी हुई थी जो इस मैच में भी जारी रही। कप्तान संजू सैमसन की बड़ी पारी खेलने की उम्मीद पूरी नहीं हो सकी। पर शिवम दुबे (46 रन, 32 गेंद, पांच चौके, दो छक्के) और रियान पराग (25 रन, 16 गेंद, चार चौके) ने पांचवें विकेट के लिए 39 गेंद में 66 रन जोड़कर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने में मदद की। अंत में राहुल तेवतिया ने 23 गेंद में 40 रन का योगदान दिया जिसमें चार चौके और दो छक्के जड़े थे।

यूं गिरे राजस्थान के विकेट

बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद टीम ने पावरप्ले के तीसरे से पांचवें प्रत्येक ओवर में एक एक विकेट गंवाया। जोस बटलर (08) से टीम को अच्छी शुरुआत दिलाने की उम्मीद थी लेकिन ऐसा नहीं हो सका और वह दूसरे ओवर में सिराज की गेंद को तेज मारने के प्रयास में बोल्ड हो गए। जैमीसन ने अगले ओवर में मनन वोहरा (07) को आउट कर टीम को दूसरा झटका दिया जो रिचर्डसन को मिड ऑन पर कैच दे बैठे।

पांचवें ओवर में सिराज ने क्रीज पर उतरे डेविड मिलर के खिलाफ पगबाधा की अपील की और आरसीबी के कप्तान कोहली ने रिव्यू लेने का फैसला किया जो राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ गया। मिलर भी सिराज की यॉर्कर से हैरान दिख रहे थे, इस तरह टीम की उन्हें चौथे नंबर पर उतारने की रणनीति कारगर नहीं हुई। पावरप्ले में राजस्थान रॉयल्स ने 32 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे। सैमसन (21) ने पावरप्ले के बाद हाथ खोलना शुरू किया और आठवें ओवर में वॉशिंगटन सुंदर की पहली ही गेंद को मिडविकेट पर छक्के के लिए भेजा।

हालांकि, उनकी लंबी पारी खेलने की ख्वाहिश अगली ही गेंद में समाप्त हो गयी, जिसमें फिर उन्होंने गेंद को मिडविकेट की तरफ उठाया लेकिन यह शॉट इतना ताकतवर नहीं था और वह आउट हो गए। टीम ने 43 रन तक चार विकेट गंवा दिए। दुबे और पराग फिर पारी को संभालने में अहम भूमिका निभायी। हर्षल पटेल ने पराग को आउट कर अर्धशतकीय साझेदारी को तोड़ा। दुबे ने आईपीएल में अपनी सर्वश्रेष्ठ पारी खेली लेकिन अर्धशतक से चार रन से चूक गए। उन्हें रिचर्डसन ने आउट किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here