कोहली के साथ बल्लेबाजी करते हुए बहुत कुछ सीखा : ईशान किशन

0
133
Ishaan Kishan

नई दिल्ली, 15 मार्च (वेबवार्ता)। भारतीय सलामी बल्लेबाज ईशान किशन, जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ रविवार को अपने पदार्पण टी -20 मैच में 56 रनों की शानदार पारी खेली, ने कहा कि उन्होंने कप्तान विराट कोहली के साथ बल्लेबाजी करते हुए बहुत कुछ सीखा।

165 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम ने कप्तान कोहली की अगुवाई में सात विकेट से जीत दर्ज की। कोहली ने नाबाद 73 रनों की पारी खेली। जबकि किशन ने पदार्पण मैच में 56 रन बनाए। इस जीत के साथ ही भारतीय टीम ने पांच मैचों की श्रृंखला 1-1 से बराबर कर ली।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने एक वीडियो साझा किया जिसमें युजवेंद्र चहल ने मैच के बाद किशन का साक्षात्कार लिया। वीडियो में किशन ने कहा, “किसी भी नौजवान के लिए अपने देश का प्रतिनिधित्व करना गर्व का क्षण है। मैं बहुत खुश था कि मुझे यह मौका मिला।” उन्होंने यह भी कहा, “मैच से पहले विराट, हार्दिक और रोहित के साथ बातचीत की, सभी ने मुझसे कहा कि आप बस आनंद लें और अपना प्राकृतिक खेल खेलें, जैसा आप आईपीएल में खेलते हैं वैसे ही खुलकर खेलें।”

चहल ने किशन से पूछा,”जब आपने अपना अर्धशतक पूरा किया तो आपने कुछ सेकंड के लिए अपना बल्ला नहीं उठाया। क्या आपको पता नहीं था कि आपने अपना अर्धशतक पूरा कर लिया है या आप नर्वस हो गए थे?” इस पर, किशन ने कहा कि वह आम तौर पर एक अर्धशतक बनाने के बाद ऐसा नहीं करते हैं लेकिन कोहली ने उन्हें ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित किया।

उन्होंने कहा, “मैं नर्वस नहीं था। वास्तव में, मुझे यकीन नहीं था कि मैं अपने अर्धशतक तक पहुँच गया हूँ और जब विराट भाई ने मुझे इसके बारे में बताया, तब मुझे एहसास हुआ। लेकिन आम तौर पर, मैं अर्धशतक लगाने के बाद अपना बल्ला ऊपर नहीं उठाता। मैंने अर्धशतक पूरा करने के बाद पीछे से कोहली भाई की आवाज सुनी,जिसमें वह कह रहे थे, ‘ओये, चारो तरफ़ घूम के बल्ला दिख। पहला मैच है तेरा’ इसके बाद मैंने बल्ला दिखाया।“

कोहली के साथ बल्लेबाजी करने के अनुभव के बारे में पूछने पर किशन ने कहा, “शुरू में, मुझे उनके साथ मुश्किल लग रहा था क्योंकि प्रत्येक चौके या दो रन लेने के बाद वह जो ऊर्जा दिखाते हैं, मैंने कभी ऐसा अनुभव नहीं किया था।” भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टी-20 मंगलवार को खेला जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here