विराट कोहली से बेहतर कप्तान साबित होंगे रोहित शर्मा : सलमान बट

0
256
rohit sharma and virat kohli

Lahore: वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC Final) में न्यूजीलैंड के हाथों मिली हार के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को कप्तानी से हटाने की लगातार मांग की जा रही है। इसके साथ ही डब्ल्यूटीसी फाइनल की हार के बाद एकबार फिर बेहतर कप्तान के तौर पर रोहित शर्मा और विराट कोहली की तुलना शुरू हो गई है। इसी कड़ी में पाकिस्तान के पूर्व बल्लेबाज सलमान बट (Salman Butt) ने अपनी राय दी है। बट ने कहा कि उनके हिसाब से रोहित विराट से बेहतर कप्तान हैं।

सलमान बट (Salman Butt) ने कहा, “निजी तौर पर मेरा मानना है कि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) विराट कोहली (Virat Kohli) से बेहतर कप्तान हैं। मैंने उनकी कप्तानी को एशिया कप में गहराई से देखा है। उन्होंने, जिस तरह से स्टैंड इन कैप्टन के तौर पर कप्तानी की थी, वह एकदम नेचुरल लगे थे। दोबारा अगर विराट कोहली (Virat Kohli) पर आए तो, भारत पिछले पांच सालों से लगातार टॉप पर रहा है, लेकिन दुख की बात है कि वह बड़े मैच जीतने में नाकाम रहा है, तो लोगों का सवाल उठाना जायज है।”

सलमान बट (Salman Butt) को लगता है कि कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी में कुछ चीजों की कमी है, यही वजह है कि वह अंतिम बाधा को पार नहीं कर पा रहे हैं। इसके अलावा, तथ्य यह है भी कि कोहली ने आइपीएल खिताब भी नहीं जीता है। सलमान बट ने अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए कहा है, “आप बहुत अच्छे कप्तान हो सकते हैं, लेकिन अगर आप कोई खिताब नहीं जीतते हैं तो जनता आपको याद नहीं रखेगी। हो सकता है कि आप एक अच्छे कप्तान हों और आपके पास अच्छी योजनाएं हों, लेकिन हो सकता है कि आपका गेंदबाज उस पर अमल न कर पाए। इसलिए किस्मत को भी साथ देना होगा। लोग तो टूर्नामेंट जीतने वालों को ही याद करते हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “कभी-कभी आप एक महान कप्तान नहीं हो सकते हैं, लेकिन आपकी टीम बहुत अच्छी हो सकती है और आप एक बड़ा खिताब जीत सकते हैं। तो यह एक कप्तान को परिभाषित नहीं करता है, लेकिन दुनिया के लिए, निश्चित रूप से, एक अच्छा कप्तान वह होता है जिसने बड़े टूर्नामेंट जीते हों।” सलमान बट ने कहा है कि विराट कोहली की आक्रमक शैली उनकी यूएसपी है, लेकिन हर समय ऐसा नहीं होना चाहिए।

पूर्व पाकिस्तानी कप्तान (Salman Butt) का कहना है, “”विराट कोहली (Virat Kohli) ने कोई आइसीसी (ICC) खिताब नहीं जीता है और न ही उन्होंने आइपीएल जीता है। वह एक शीर्ष श्रेणी के क्रिकेटर हैं, उनके पास उत्कृष्ट शारीरिक भाषा है और आक्रामकता है। उनका ऊर्जा स्तर एक अलग स्तर पर है, और यह स्पष्ट है कि वह देना चाहते हैं हर बार जब वह मैदान में कदम रखते हैं तो उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन होता है, लेकिन कप्तानों को सूक्ष्म होना चाहिए, उग्र नहीं होना चाहिए।”

बट (Salman Butt) ने कहा कि हमने सुना था कि ये आग और पानी की लड़ाई है, ये सिद्ध भी हुआ। उनका कहना था, “हम डब्ल्यूटीसी फाइनल के दौरान सुनते रहे कि यह आग (विराट कोहली) और बर्फ (केन विलियमसन) के बीच की लड़ाई है। खिताब जीतने वाले अधिकांश शीर्ष-श्रेणी के कप्तान संकट के क्षणों में शांत या हाव-भाव से रहित थे। विराट कोहली इशारों से भरे इंसान हैं। अगर वह जीत जाता, तो उसकी कोई अंत नहीं होता।”

गौरतलब है कि आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2021 के फाइनल (WTC Final) में न्यूजीलैंड के खिलाफ हार के बाद अब भारतीय टीम इंग्लैंड के विरुद्ध 5 मुकाबलों की टेस्ट सीरीज खेलेगी। लाल गेंद से खेली जाने वाली यह सीरीज अगस्त-सितंबर में आयोजित होगी। ऐसे में विराट सेना को इंग्लैंड की ‘मजबूत’ चुनौती का सामना करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here