WTC Final : आज भारतीय टीम का ऐलान संभव, BCCI ने सिलेक्टर्स से 22-24 खिलाड़ी चुनने को कहा

0
119
WTC Final Team India

Webvarta News Desk: न्यूजीलैंड के खिलाफ अगले महीने इंग्लैंड में खेले जाने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल मुकाबले (WTC Final) के लिए भारतीय टीम का चयन आज हो सकता है. यह मुकाबला 18 से 22 जून तक इंग्लैंड के साउथैम्पटन में खेला जाना है.

इसके बाद पांच टेस्ट मैचों की सीरीज इंग्लैंड के खिलाफ खेली जाएगी. चयनकर्ता इसके लिए जंबो स्क्वॉड चुन सकते हैं जिसमें चार ओपनर्स, चार से पांच मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाज, आठ या नौ पेसर्स, चार से पांच स्पिनर्स और दो या तीन विकेटकीपर्स शामिल किए जा सकते हैं. टीम के चयन में पृथ्वी शॉ और हार्दिक पांड्या की वापसी पर सबकी नजर रहेगी.

मिली जानकारी के मुताबिक, सिलेक्शन कमिटी ने 35 संभावित नामों का चयन इंग्लैंड दौरे के लिए कर लिया है. उन्हें बस उनमें से 22-24 नाम फाइनल करने हैं. फाइनल खिलाड़ियों के नामों का ऐलान आज हो सकता है. टीम मैनेजमेंट ने बड़ी टीम चुनने को कहा है ताकि खिलाड़ी इस बड़े मुकाबले से पहले आपस में इंट्रा स्वॉड मैच खेल सकें. यह देखने वाली बात होगी की सलेक्टर्स सिर्फ फाइनल के लिए टीम का चयन करेंगे या इंग्लैंड के खिलाफ आगामी पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए टीम टीम चुनी जाएगी.

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने किया था दमदार प्रदर्शन

माना जा रहा है कि टीम के चयन के साथ ही पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) के चेहरे पर मुस्कान लौट सकती है. बता दें कि IPL के 14वें सीजन में पृथ्वी शॉ ने दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया था. इसके साथ ही पृथ्वी शॉ का विजय हजारे ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन रहा था. बता दें कि ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर पहले टेस्ट में खराब परफॉर्मेंस के बाद उन्हें ड्रॉप कर दिया गया था, लेकिन उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में अपनी फॉर्म वापस हासिल की. पृथ्वी ने इस सीजन में टीम के लिए खेले 8 मैचों में 166.48 के स्ट्राइक रेट से 308 रन बनाए. उन्होंने टीम के द्वारा खेले गये 7 मैचों में से 3 में अर्धशतक जड़े.

हार्दिक पंड्या हो सकते हैं बाहर

ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) को बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है. बड़ौदा की ओर से घरेलू क्रिकेट खेलने वाले पंड्या टी20 में भी लगातार बोलिंग नहीं कर रहे हैं. ऐसे में सेलेक्टर्स अन्य विकल्प की ओर देख सकते हैं.

प्रसिद्ध कृष्णा को मिल सकता है मौका

पेसर प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh Krishna) को टेस्ट टीम में पहली बार मौका मिल सकता है. कर्नाटक के 25 वर्षीय कृष्णा की प्रतिस्पर्धा दिल्ली के नवदीप सैनी से है. हालांकि प्रसिद्ध ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में सेलेक्टर्स को अपनी गेंदबाजी से प्रभावित किया था. अन्य पेसर्स में जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा, मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर शामिल किया जाएगा. इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट से बाहर रहे पेसर मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) भी वापसी करेंगे. रविंद्र जेडजा (Ravindra Jadeja) और हनुमा विहारी के भी टीम में वापसी की उम्मीद है.

अश्विन और अक्षर बरकरार रहेंगे

स्पिन डिपार्टमेंट में आर अश्विन और अक्षर पटेल को मौका मिल सकता है जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में बेहतरीन प्रदर्शन किया था. वॉशिंगटन सुंदर भी जगह बरकरार रख सकते हैं. केएस भरत को तीसरे विकेटकीपर के रूप में देखा जा सकता है. ऋषभ पंत और रिद्धिमान साहा की जगह पक्की है.

यह हो सकती है संभावित 30 सदस्यीय टीम

सलामी बल्लेबाज: ओपनिंग की जिम्मेदारी रोहित शर्मा और शुबमन गिल को मिल सकती है. रोहित का खेलना तय है, लेकिन शुबमन उनका साथ देने में फिलहाल सबसे अच्छा विकल्प दिखते हैं. रोहित मैदान पर आते ही गेंदबाजों पर हावी हो सकते हैं, इससे दूसरी तरफ शुबमन को क्रीज पर टिकने का समय भी मिलेगा. गिल ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया में शानदार की थी लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ अपनी फॉर्म को जारी नहीं रख पाए थे. हालांकि उनका करियर ज्यादा लंबा नहीं है, लेकिन रन बनाने की प्रतिभा उनके पास है.

मिडिल ऑर्डर : वहीं मध्यक्रम में चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्या रहाणे और रिषभ पंत हैं. पंत बताैर विकेटकीपर मैदान पर उतरेंगे. वहीं . पुजारा, विराट और रहाणे जैसी अनुभवी खिलाड़ियों के पास अंग्रेजी परिस्थितियों में खेलने का तजुर्बा है. पंत पिछले कई महीनों से खतरनाक टच में दिख रहे हैं. आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड के खिलाफ भी पंत का बल्ला खूब चला था. उनकी विकेट कीपिंग स्किल्स में काफी सुधार हुआ है. इसलिए, टीम इंडिया फाइनल के लिए इस कोर के साथ मैदान पर खेलती हुई दिखाई दे सकती हैं.

ऑलराउंडर: फाइनल मुकाबले के लिए भारत के पास तीन आॅलराउंडर हैं जो इस समय जबरदस्त लय में भी हैं. हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन आॅलराउंडर की भूमिका निभा सकते हैं. जडेजा का इंग्लैंड में अच्छा रिकॉर्ड है. चाहे वह सफेद गेंद हो या लाल गेंद, जडेजा हमेशा इंग्लैंड की परिस्थितियों में मैच विजेता के रूप में उभरे हैं. साउथेम्पटन में पांड्या भी काफी मददगार साबित हो सकते हैं. अश्विन ने पिछले दिनों में भारत के लिए अविश्वसनीय गेंदबाजी और बल्लेबाजी की है. साउथेम्पटन हमेशा से ही उंगली के स्पिनरों के लिए एक बढ़िया मैदान साबित हुआ है. लेकिन इन तीनों में से दो को मौका मिलना है. अब देखना है कि मैनेजमेंट अश्विन को माैका देती है या फिर जडेजा को. पांड्या को बाहर करना मुश्किल है क्योंकि वह तेज गेंदबाजी करने की भूमिका निभा सकते हैं.

गेंदबाज : जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी तेज गेंदबाजी आक्रमण संभालते दिख सकते हैं. बुमराह फाइनल में एक जादुई स्पैल फेंक सकते हैं और भारत को पहले आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का खिताब जीतने में मदद कर सकते हैं. वहीं शमी स्विंग और सीम स्थिति का इस्तेमाल करने के लिए जाने जाते हैं. इशांत के पास इंग्लिश पिचों पर खेलना का काफी अनुभव है जो टीम के काम आ सकता है. इसके आलावा उमेश यादव, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी, आवेश खान, प्रसिद्ध कृष्णा, भुवनेश्वर कुमार.

स्पिनर: आर अश्विन, वाशिंगटन सुंदर, अक्षर पटेल, राहुल चाहर.

नेट बॉलर : चेतन सकारिया, अंकित राजपूत.

भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन- रोहित शर्मा, शुबमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्या रहाणे, रिषभ पंत (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा/रविचंद्रन अश्विन, जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here