Kerala Gold Smuggling Case: चुनाव से पहले केरल में बवाल, गोल्ड स्मगलिंग में CM विजयन का नाम

0
146
Webvarta Desk: केरल की राजनीति में विधानसभा चुनाव (Kerala Election 2021) से ठीक पहले बड़ा भूचाल आता नजर आ रहा है। पिछले साल सामने आए बहुचर्चित सोने की तस्करी (Kerala Gold Smuggling Case) मामले के मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश (Swapna Suresh) ने बड़ा खुलासा किया है।

कस्टम विभाग (Custom Department) की पूछताछ के दौरान स्वपना ने मुख्यमंत्री पिनारई विजयन (Pinarayi Vijayan) और कैबिनेट के तीन मंत्रियों का नाम लिया है। सपना ने इन सभी के गोल्ड स्मगलिंग केस (Kerala Gold Smuggling Case) में शामिल रहने की बात कही है।

स्वप्ना (Swapna Suresh) ने कस्टम विभाग (Custom Department) को दिए बयान में इस बात की पुष्टि की। केरल हाई कोर्ट (Kerala High Court) में कस्टम विभाग ने एफिडेविट में बताया, ‘सीएम पिनारई विजयन को अरबी भाषा नहीं आती। इसलिए आरोपी स्वप्ना सुरेश और कॉन्स्युलेट जनरल के बीच बातचीत की मध्यस्थता करती थी। स्वप्ना ने बताया कि गोल्ड स्मगलिंग (Kerala Gold Smuggling Case) की इस डील में सीएम और मंत्रियों को करोड़ों रुपए का कमीशन मिलता था।

इस केस (Kerala Gold Smuggling Case) के खुलासे के साथ ही केरल में विपक्ष ने निशाना साधना शुरू कर दिया है। विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने कहा कि कांग्रेस बीते कई महीनों से गोल्ड स्मगलिंग के आरोप लगा रही थी। वह सब सच साबित हुआ। बीजेपी ने भी सीएम पर हमलावर रुख अपनाया है।

पिछले साल 5 जुलाई को त्रिवेंद्रम एयरपोर्ट पर एक राजनयिक लगेज से 30 किलोग्राम सोना जब्त किया गया था। एनआईए ने 11 जुलाई को आरोपी तस्करी रैकेट की मुख्य आरोपी स्वप्ना को गिरफ्तार कर लिया था। केरल के आयकर विभाग के साथ काम करने वाली एक हाई-प्रोफाइल कंसल्टैंट, स्वप्ना सुरेश को राज्य में सत्ताधारी वाम लोकतांत्रिक मोर्चा की सरकार की करीबी बताकर विपक्ष लगातार निशाना साध रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here