ममता बनर्जी ने तीसरी बार CM पद की शपथ ली, अब शांति सुनिश्चित करूंगी

0
136
Mamata Banerjee

कोलकाता, 05 मई (वेबवार्ता): विधानसभा चुनाव में जबरदस्त जीत दर्ज करने के बाद आज ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री पद की तीसरी बार शपथ ली. राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उन्हें शपथ दिलाई. कोरोना संकट काल और उसकी गाइडलाइन्स की वजह से शपथ ग्रहण समारोह छोटा ही रखा गया है. ममता बनर्जी ने अकेले ही शपथ ली है. उनके साथ किसी भी मंत्री ने शपथ नहीं ली है.

शपथ ग्रहण समारोह के कुछ देर बाद ही राज्यपाल और मुख्यमंत्री के बयानों में तल्खी नजर आई. समारोह के दौरान राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने ममता बनर्जी को तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी और कहा कि हमारी प्राथमिकता यही होनी चाहिए कि इस बेवजह हो रही हिंसा की घटनाओं का अंत हो और मुझे उम्मीद है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कानून व्यवस्था को बहाल करने के लिए तत्काल कदम उठाएंगी. इस बीच, ममता बनर्जी ने कहा कि कानून और व्यवस्था पिछले तीन महीनों से चुनाव आयोग के कंट्रोल में थी. मैंने अभी शपथ ली है और यह सुनिश्चित करूंगी कि राज्य में शांति बनी रहे.

ममता बनर्जी ने शांति बनाए रखने की अपील की
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शपथ लेने के तुरंद बाद सभी राजनीतिक दलों से शांति सुनिश्चित करने की अपील की. ममता ने कहा, “बंगाल को हिंसा पसंद नहीं है. मैं व्यक्तिगत रूप से कानून और व्यवस्था के मुद्दों को देखूंगी और सुनिश्चित करूंगी कि राज्य में शांति कायम हो. मैं सभी से शांति बनाए रखने की अपील करती हूं. अगर किसी भी दल के व्यक्ति ने हिंसा की, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. मैं शांति के पक्ष में हूं और रहूंगी.’”

पीएम मोदी ने दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी को मुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ”पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर ममता दीदी को बधाई.”

हम शपथ लेते हैं कि बंगाल की धरती से राजनीतिक हिंसा खत्म करेंगे – नड्डा

उधर, कोलकाता के बीजेपी कार्यालय में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा, ‘जैसे-जैसे नतीजे आए हैं वैसे-वैसे यहां राजनीतिक हिंसा का तांडव देखने को मिला है. यह लड़ाई हम निर्णायक मोड़ तक लड़ेंगे. जो तस्वीरें मैंने विभाजन के समय देखी थी वे ताजा होती दिख रही थीं. जिनको रक्षा करनी चाहिए वे ही इस हिंसा के तांडव के जिम्मेदार लोग हैं. ऐसे लोग शपथ लें, प्रजातंत्र में सबको शपथ लेने का अधिकार है लेकिन हम भी शपथ लेते हैं कि बंगाल की धरती से राजनीतिक हिंसा खत्म करेंगे.’

तृणमूल कांग्रेस ने जीती हैं 213 सीट  
बता दें कि विधानसभा चुनाव के दौरान जिस तरह से भारतीय जनता पार्टी ने ताकत झोंकी थी, ऐसा लग रहा था कि बंगाल का मुकाबला फंस सकता है. लेकिन तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव में शानदार जीत दर्ज कर इतिहास रचते हुए लगातार तीसरी बार राज्य की सत्ता अपने पास बरकरार रखी है. पार्टी को 292 विधानसभा सीटों में से 213 पर जीत हासिल हुई है जो बहुमत के जादुई आंकड़े से भी कहीं अधिक है. वहीं बीजेपी 77 सीटों पर विजयी रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here