मंत्री ओपीएस के खास बाइक, मोबाइल लुटेरे गिरफ्तार

0
180
Minister OPS

आखिर हर अपराध में क्यो आता है मंत्री का नाम?

-मुकेश शर्मा-

ग्वालियर, 24 मई (वेबवार्ता)। अंचल के भिण्ड जिले के मेहंगाव थाना अंतर्गत हथियारों की नींक पर बाइक एवं मोबाईल लूटने के आरोपियों को भिण्ड पुलिस ने कवल 5 घंटे में गिरफ्तार कर लिया,भिंड जिले के मेहगाँव थाना क्षेत्र में कार सवार बदमाशों ने हथियारों की दम पर बीते दिवस लूट की वारदात को अंजाम दिया पीड़ित से बाइक एवं मोबाइल लूट कर फ़रार हो गए लेकिन पुलिस ने तत्परता दिखते हुए पांच घंटे में ही आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया, पकड़े गए बदमाशों में एक एक भाजपा के अनुसांगिक संगठन का प्रदेश महामंत्री भी शामिल है जो शिवराज सरकार के राज्य मंत्री ओपीएस भदौरिया का काफी नजदीक है। आरोपी छोटू भदौरिया मंत्री ओपीएस भदौरिया के पड़ोसी गांव मानहड़ का निवासी है, सोशल मीडिया पर आरोपी छोटू उर्फ संतोष भदौरिया और मंत्री ओपीएस भदोरिया की कई तस्वीरें वायरल हो रहीं हैं।
दरअसल ज़िले के मौ थाना क्षेत्र के निवासी होतम सिंह कुशवाह किसी काम से मेहंगाव के सोनी गांव से अपने गाँव की ओर जा रहे थे। इसी बीच अचानक कार से सवार हो कर आए चार बदमाशों ने उनकी बाइक रुकवाई और 315 बोर का कट्टा अड़ाकर मोबाइल छीन लिया। Minister OPS
आरोपियों को तमंचे के साथ देख कर पीड़ित को अचानक सर पर मौत नजर आने लगी।पीड़ित होतम के साथ के दोनो दोस्त भाग खड़े हुए, जिस पर आरोपी बदमाश संतोष भदौरिया और इसके साथियों ने पीड़ित की बाइक और मोबाइल लूट कर मारपीट की ओर बाइक सहित फ़रार हो गए,घटना की जानकारी जैसे तैसे पीड़ित ने पुलिस को दी।
जानकारी मिलते ही चार थानों की पुलिस ने बदमाशों की घेरा बंदी की जिस पर मेहगाँव एसडीओपी अरविंद शाह ने तुरंत अमायन, बरासों,लहार और कंट्रोल रूम को तस्दीक़ के लिए लगा दिया, क़रीब डेढ़ घंटे तक ढूँढने पर भी जब आरोपियों का पता नही चला तब पुलिस ने लूटे गये मोबाइल को सर्विलांस पर लगाया। मेहंगाव एसडीओपी के अनुसार जो मोबाइल लूट में गया था साइबर के माध्यम से उसकी लोकेशन लहार के अजनार और केशवगढ़ के बीच मिली, जिसके बाद लहार पुलिस को अलर्ट किया गया और मेहगाँव से भी पुलिस पार्टी भी मौके के लिए रवाना हुई।
दोंनो इलाक़े की पुलिस द्वारा संयुक्त प्रयास से केशवगढ़ के एक स्कूल के पास वारदात में शामिल कार खड़ी मिली जिसके बाद पुलिस द्वारा आसपास खोजबीन की गयी तो एक घर में चारों आरोपी छिपे मिले, कार पर भाजपा के एक अनुसांगिक संगठन के प्रदेश महामंत्री की प्लेट लगी है।आरोपी संतोष उर्फ़ छोटू भदौरिया, अंकित भदोरिया, रोहित नरवरिया, और हर्षित राजावत को गिरफ्तार कर लिया, पूछताछ में पुलिस ने लूट की बाइक, मोबाइल समेत वारदात में शामिल 315 बोर का कट्टा, 2 जिंदा कारतूस और लूट में प्रयुक्त कार बरामद कर ली है, साथ ही आरोपियों के ख़िलाफ़ लूट सहित अन्य धाराओं मामला भी दर्ज कर लिया है।
आरोपी की मंत्री के साथ नजदीकियों की फोटो शोसल मीडिया पर जमकर वायरल होरही हैं।
इन आरोपियों की गिरफ़्तारी के साथ ही छोटू भदौरिया की नज़दीकियां मंत्री ओपीएस भदौरिया से होने की चर्चा भी गरम है ,क्योंकि छोटू भदौरिया मंत्री करीबी माना जा रहा है, मंत्री के साथ जन्मदिन मनाते और फूलों के बुके देते दोनो की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर जमकर वाइरल हो रही हैं यूं भी मंत्री ओपीएस भदौरिया और अपराधियों का गहरा रिश्ता है? क्षेत्र में आम चर्च है कि कोई भी बड़ा अपराध हो उससेमंत्री ओपीएस के सूत्र क्यों जुड़े रहते हैं? फिर चाहे बो अवैध शराब हो या रेत माफिया द्वारा की जाने वाली हत्याएं? इन सभी घटनाओं से हम अपने पाठकों को समय समय पर अवगत कराते रहे हैं। अब देखना यह है कि भाजपा संगठन मंत्री और अपराधियों के ठगबंधन की जांच कराता है या नहीं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here