Wasim Rizvi PIL On Quran: कुरान की 26 आयतें हटाने SC पहुंचे रिजवी, मुस्लिम भड़के, सिर काटने पर रखा इनाम

0
407
Webvarta Desk: शिया वक्‍फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Wasim Rizvi Pil On Quran) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में कुरान की 26 आयतों को हटाने से संबंधित एक जनहित याचिका दाखिल की है।

रिजवी (Wasim Rizvi Pil On Quran) ने इसके साथ ही कुछ आयतों को आतंकवाद को बढ़ावा देने वाली बताया है। उन्होंने कहा है कि इन आयतों को कुरान में बाद में शामिल किया गया है। रिजवी की इस याचिका के बाद मुस्लिम समुदाय में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। शियाने हैदर-ए कर्रार वेलफेयर एसोसिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हसनैन जाफरी डंपी ने वसीम रिजवी का सिर काटकर लाने वाले को 20 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है।

शुक्रवार को हसनैन जाफरी डंपी ने एक वीडियो संदेश जारी कर कहा है कि पैगंबर मोहम्मद का कलमा पढ़ने और शिया घर में पैदा होने के नाते मैं वसीम रिजवी के कृत्य की निंदा करता हूं। वसीम रिजवी के बायकॉट के लिए प्रदेश भर में कैंपेन चलाएगा। शिया समाज के जो लोग वसीम रिजवी को अपने घर कार्यक्रमों में बुलाएंगे, उन लोगों का भी बायकॉट किया जाएगा।

‘रिजवी पर मुकदमा दर्ज कर जेल भेजे सरकार’

डंपी ने ये भी कहा कि मैं शासन-प्रशासन से मांग करता हूं कि ये समूचे मुस्लिम समुदाय की आस्था पर चोट है, इसलिए वसीम रिजवी (Wasim Rizvi Pil On Quran) के विरूद्ध तत्काल प्रभाव से मुकदमा दर्जकर उसे जेल भेजे, अन्यथा उन्माद बढ़ने की पूरी संभावना है।

वक्फ बोर्ड का चेयरमैन रहते हुए वसीम रिजवी (Wasim Rizvi Pil On Quran) ने जो भ्रष्‍टाचार किया है, सरकार उसे उन मामलों में तत्काल गिरफ्तार करे। साथ ही वसीम रिजवी ने किसके कहने से ऐसा गैर कानूनी कृत्य किया है, उस व्यक्ति को भी बेनकाब किया जाए।

कुरान से एक हर्फ भी नहीं हटाया जा सकता: मौलाना अब्‍बास

इसी तरह, मौलाना खालिद रशीद ने उत्‍तर प्रदेश सरकार से रिजवी पर सख्त कार्रवाई की मांग की है। मौलाना कल्बे जव्वाद का कहना है कि वसीम रिजवी यजीद का वंशज है। शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने कहा कि कुरान से एक हर्फ भी नहीं हटाया जा सकता है। मौलाना सैफ अब्बास ने कहा किसी पार्टी के लिए धर्म को बेचना गलत है। वहीं, मौलाना सुफियान निजामी ने कहा कि वसीम रिजवी जैसे लोग अपना दिमागी संतुलन खो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here