चित्रकूट के ग्रामीण अंचलों के कोरोना मरीजों के लिए वरदान साबित हो रही हैं ‘श्री सदगुरू सेवा संघ ट्रस्ट’ की सेवाए

0
161

Webvarta Desk: चित्रकूट, 14 मई। 21वीं सदी की वैश्विक महाआपदा करार दी जा रही कोरोना महामारी से जूझ रहे भारत के शहरी इलाकों में उपचार सुविधाओं को लेकर मचे हाहाकार के बीच चित्रकूट सरीखे दूरदराज के ग्रामीण अंचलों में श्री सद्गुरु सेवा ट्रस्ट संघ की सेवाएं गरीब जरूरतमंदों के लिए बहुत बड़ा वरदान साबित हो रही हैं।

ट्रस्ट ने इस महामारी से पीड़ित लोगों की निःशुल्क व निःस्वार्थ सेवा कर मानवता की नई मिसाल पेश की है।

श्री सदगुरू सेवा संघ ट्रस्ट द्वारा जहां जानकी कुंड चिकित्सालय में विशेष कोरोना वार्ड बनाकर जरूरतमंदों को उपचार सहित तमाम सुविधाएं बिल्कुल मुफ्त में मुहैया कराई जा रही हैं, वहीं सुदूर ग्रामीण अंचलों में मोबाइल वाहनों के माध्यम से कोरोना को लेकर जन-जागरूकता व संक्रमित लोगों के उपचार का विशेष अभियान भी चलाया जा रहा है। इतना ही नहीं, परम् पूज्य गुरुदेव के उद्देश्य ‘भूखे को भोजन’ के संकल्प को तहत जरूरतमंदों को निःशुल्क भोजन भी उपलब्ध कराया जा रहा है।

IMG 20210514 WA0003 e1621004379812

श्री सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट के प्रशासक डॉ. इलेश जैन ने बताया कि ट्रस्ट की ओर से जानकी कुंड अस्पताल में तमाम सुविधाओं से लैस 30 बेड का एक विशेष निःशुल्क कोविड वार्ड शुरू किया गया है।

उन्होंने जानकारी दी कि जिन मरीजों के पास होम आइसोलेशन की सुविधा नहीं है, उनको इस विशेष वार्ड में दाखिल कर उनका निःशुल्क उपचार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जो भी कोरोना मरीज इस वार्ड में भर्ती किए जा रहे हैं, उनको न तो बेड के लिए किसी किस्म का भुगतान करना होगा और न ही उनसे दवाइयों व भोजन के लिए ही किसी किस्म का शुल्क लिया जाएगा।

डॉ. जैन ने बताया कि मध्यप्रदेश की सरकार ने कोरोना मरीजों के लिए आयुष्मान भारत निरामयम योजना शुरू की है जिसके तहत जानकी कुंड चिकित्सालय को भी अधिकृत किया गया है। उन्होंने बताया कि इस योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थियों के पास आयुष्मान कार्ड के साथ- आधार कार्ड भी पहचान के तौर पर देना होगा।

IMG 20210514 WA0002 e1621004431971

डॉ. जैन ने बताया कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए चित्रकूट अंचल में जन जागरूकता व चिकित्सा हेतु जानकी कुंड चिकित्सालय के अंतर्गत श्री सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट द्वारा ‘कोविड आरोग्यम्’ नाम से ‘कोरोना मुक्त चित्रकूट’ नाम से एक विशेष अभियान भी शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत मोबाइल वाहन द्वारा चिकित्सकों की टीम क्षेत्र के सुदूर ग्रामीण इलाकों में घर-घर जाकर कोरोना की निःशुल्क (Rapid Antigen) जांच कर रही है तथा ग्रामीणों में संक्रमण पाये जाने पर उन्हें निःशुल्क मेडिकल किट का वितरण कर उन्हें होम आइसोलेट भी कर रही है। इसके अतिरिक्त लोगों को कोरोना के प्रारंभिक लक्षणों के प्रति सजग एवं जागरूक भी किया जा रहा है।

डॉ. जैन ने जानकारी दी कि परम् पूज्य गुरुदेव के उद्देश्य
‘भूखे को भोजन’ के संकल्प को लेकर’श्री अरविन्द भाई मफतलाल’ की स्मृति में श्री विशद भाई मफतलाल एवं परिवार मुम्बई के सहयोग से ट्रस्ट द्वारा जरूरतमंदों के बीच लगातार भोजन के पैकेटों का वितरण किया जा रहा है। इसके तहत विभिन्न कस्बों एवं गाँवों में भोजन के पैकेटों के साथ गुरुदेव का प्रसाद सुखड़ी और फल वितरित किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here