बिजली के शॉर्ट सर्किट से छप्पर के मकान में लगी आग, एक बच्ची मौत, फिल्मी एकर वकार अहमद ने की आर्थिक मदद

0
37
शाहजहांपुर, 24 फरवरी (राम निवास शर्मा)। शाहजहांपुर जिले के तहसील जलालाबाद के गांव गुनारा में बिजली के शॉर्ट सर्किट से छप्परदार घर में ल आग लग गयी। आग से 11 साल की बच्ची की जलकर दर्दनाक मौत हो गयी।ग्रामीणों का आरोप हैं विद्युत विभाग विभाग की लापरवाही के चलते हुआ हादसा। घर के ऊपर से निकाला गया है हाईटेंशन तार की लाइन।

जलालाबाद के ग्राम गुनारा में बीती रात आग लगने से छप्परदार घर में सो रही समीम की दस बर्षीय बेटी राहीना की उसमे जलकर मौत हो गई है गांव बालो ने वमुश्किल आग पर काबू पाया तव तक घरेलू समान जलकर राख हो गया। मौके पर पहुँचे कोतवाल जसवीर सिंह ने बच्ची के शव को पोस्टमार्टम को भेजा है।

दस बर्षीय बच्ची की जलकर हुई मौत

शाहजहांपुर मुख्यालय से 38 किलोमीटर दूर गांव गुनारा में उस समय हड़कंप मच गया जब बिजली के शॉर्ट सर्किट से छप्पर दार मकान में मंगलवारआग लग गई। आग लगने से सो रही 11 साल की बच्ची की दर्दनाक मौत हो गई। वहीं आग से पास की झोपड़ियों में भी जल लग गई। स्थानीय लोगों ने पानी डाल डाल कर आग पर काबू पाया। इस आग से जहां एक बच्ची की मौत हो गई वहीं दूसरी ओर लाखों का सामान जलकर खाक हो गया।

बताया जा रहा है कि घर के ऊपर हाईटेंशन तार की लाइन जा रही थी। विद्युत विभाग की लापरवाही के चलते यह हादसा हो गया। इस बात से ग्रामीणों में आक्रोश है।

बीती मंगलवार की रात आस मोहम्मद के घर के ऊपर अचानक विद्युत लाइन की तार से चिंगारी निकली। चिंगारी से छप्पर दार घर में अचानक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इस आग ने आसपास के घरों में भी फैल गई। हिसाब से 10 साल की लड़की रैना की झुलस कर दर्दनाक मौत हो गई। वहीं आंख के सामने घरो में रखा हुआ लाखों का सामान जलकर खाक हो गया।

इस घटना के बाद पूरा परिवार गमगीन है। वहीं इस हादसे के लिए बिजली विभाग को दोषी ठहरा रहे हैं। आपको बता दें अभी हाल ही में थाना मिर्जापुर के पृथ्वीपुर गांव में भी हाईटेंशन के तार से एक बच्चे की दर्दनाक मौत हो चुकी है उन सब के बावजूद विद्युत विभाग लापरवाह बना हुआ है।

वही घटना की जानकारी मिलते ही हिंदी फिल्मों के एक्टर वकार अहमद घटना स्थल पर गए वहां जाकर परिजनों को उन्होंने ढाढ़स बधाया। इसके बाद वे जली हुई बच्ची की लाश लेने के लिए पोस्टमार्टम हाउस शाहजहांपुर पहुंचे जहां से अपने वाहन से लाश को उन्होंने गांव गुनारा तक पहुंचाया और दफन करवाया।

घटना की सूचना के बाद बुधवार को सुबह जलालाबाद के उप जिलाधिकारी सौरभ भट्ट पीड़ित के घर पर पहुंचे ,जहां उन्हें उन्हें जले हुए मकान का निरीक्षण किया एवं जलकर मरी बच्ची का पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। उन्होंने संबंधित लेखपाल को अभिलेख तैयार कर शासन को भेजने के लिए कहा है एसडीएम सौरभ भट्ट ने पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा दिलाए जाने का आश्वासन भी दिया है इस अवसर पर गुनाह ना गांव के लेखपाल सुशील शर्मा भी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here