West Bengal: बम हमले में पश्चिम बंगाल के मंत्री की कटी उंगली, CM ममता ने जताई साजिश की आशंका

0
163
Webvarta Desk: पश्चिम बंगाल सरकार (West Bengal Govt) में मंत्री जाकिर हुसैन (Jakir Hossain) का अभी अस्पताल में इलाज चल रहा है। मुर्शिदाबाद जिले में निमटीटा रेलवे स्टेशन पर बम से हुए हमले (Bomb Attack on West Bengal Minister) में मंत्री घायल हो गए थे। उनकी एक उंगली कट गई और शरीर के अन्य हिस्सों में भी चोट आई है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने इस हमले को एक बड़ी साजिश का हिस्सा करार दिया है। मामले की जांच के लिए एसआईटी का भी गठन कर दिया गया है।

कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में इलाज करा रहे मंत्री जाकिर हुसैन (Jakir Hossain) की 2 सर्जरी हो चुकी है। डॉक्टर्स के अनुसार उनकी हालत खतरे से बाहर है। सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने हॉस्पिटल में जाकर उनके मुलाकात की। इसके अलावा राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Jagdeep Dhankhad) भी हॉस्पिटल गए। धनखड़ ने बम धमाके की जांच एनआईए से कराने की मांग की है। बम हमले के बाद राज्य सरकार ने मुर्शिदाबाद के जिलाधिकारी जगदीश प्रसाद मीणा को हटाकर उनके स्थान पर शरद कुमार द्विवेदी को नियुक्त किया है।

ममता बनर्जी ने कहा, ‘मंत्री जाकिर हुसैन पर हमला एक सोची-समझी साजिश थी। कुछ पार्टी के लोग पिछले कुछ महीने से जाकिर हुसैन पर दबाव बना रहे थे, कि वह उनके दल में शामिल हों। मैं अधिक जानकारी नहीं दूंगी क्योंकि जांच जारी है।’

उन्होंने कहा कि हमलावर स्पष्ट तौर पर हुसैन के आने के बारे में जानते थे और शायद उनका पीछा कर रह थे। मुख्यमंत्री ने हमले में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को पांच-पांच लाख रुपये और मामूली रूप से घायल हुए लोगों को एक-एक लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है।

उन्होंने पूछा, ‘जब हमला रेलवे स्टेशन पर हुआ, तो रेलवे सुरक्षा में चूक की अपनी जिम्मेदारी से इनकार कैसे कर सकती है? हमले के समय स्टेशन पर कोई सुरक्षा कर्मी नहीं था। वहां बिजली भी नहीं थी, बिल्कुल अंधेरा था। रेलवे पुलिस आखिर क्या कर रही थी?’

उन्होंने कहा कि रेलवे को जांच में सहयोग करना चाहिए। बनर्जी ने कहा, ‘रेलवे स्टेशन, रेलवे की सम्पत्ति है। रेलवे पुलिस उसकी सुरक्षा के लिए जिम्मेदार है। यह हमारे अधिकार-क्षेत्र में नहीं आता।’ बनर्जी ने बताया कि हमले में 26 लोग घायल हुए हैं।

इस बीच, भाजपा नेतृत्व ने इसे राज्य सरकार की विफलताओं से जनता का ध्यान हटाने की कोशिश करार देते हुए बनर्जी पर निशाना साधा। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जयप्रकाश मजुमदार ने कहा, ‘यह घटना दर्शाती है कि यहां कानून-व्यवस्था खत्म हो चुकी है। क्या रेलवे राज्य में शासन करता है? ऐसी बातों से कुछ नहीं होगा। वह (ममता) राज्य की गृह मंत्री और मुख्यमंत्री दोनों ही रूप में विफल हो चुकी हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here