EC ने 5 राज्यों में विधानसभा चुनावों का ऐलान, 27 मार्च से वोटिंग.. 2 मई को नतीजे

0
303
Webvarta Desk: चुनाव आयोग (Election Commission or EC) ने शुक्रवार को पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों (Assembly Election 2021) की तारीखों का ऐलान कर दिया है।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) ने दिल्ली में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि पश्चिम बंगाल (West Bengal), असम (Assam), तमिलनाडु (Tamil nadu) और केरल (Kerala) के अलावा पुदुचेरी (Pudducherry) में वोट डाले जाएंगे। वोटिंग 27 मार्च से शुरू होगी और 2 मई को नतीजे आएंगे।

प्रेस कांफ्रेंस की शुरुआत करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) ने कहा कि कोरोना के दौरान सबने नए तरीके सीखें। उन्होंने चुनावकर्मियों को भी कोरोना वरियर्स बताया। मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि कोरोना का ध्यान रखते हुए इसबार 5 राज्यों में चुनाव (Assembly Election 2021) हों। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में बिहार में चुनाव सफल रहा। बड़ी संख्या में महिलाओं ने बिहार विधानसभा चुनाव में बढ़-चढ़कर वोटिंग की।

824 सीटों पर होगा मतदान

चुनाव आयुक्त ने कहा कि हमने पांच राज्यों में राजनीतिक पार्टियों और चुनाव आधिकारियों से बात कर ली है। चुनाव आयोग की टीमें इन राज्यों का दौरा भी कर चुकी हैं। उन्होंने कहा कि इस बार कुल 824 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा। चुनाव आयुक्त अरोड़ा ने कहा कि सभी चुनाव अधिकारियों का टीकाकरण किया जा रहा है।

पोलिंग बूथ की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि असम में इस बार 33 हजार से ज्यादा पोलिंग स्टेशन होंगे। वहीं तमिलनाडु में 88 हजार से ज्यादा पोलिंग स्टेशन, पश्चिम बंगाल में 1 लाख 1 हजार से ज्यादा पोलिंग स्टेशन, केरल में 40 हजार और पुदुचेरी में 1500 से ज्यादा पोलिंग बूथ होंगे।

सुरक्षा के खास इंतजाम

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि विधानसभा चुनावों (Assembly Election 2021) के दौरान पर्याप्त मात्रा में केंद्रीय सुरक्षाबलों को इन 5 राज्यों में तैनात किया जाएगा। संवेदनशील बूथों की पहचान कर ली गई। इसके साथ ही चुनाव अधिकारियों का टीकाकरण किया जाएगा और इस बार मतदान का समय 1 घंटे ज्यादा रखा गया है।

उन्होंने कहा कि सभी पोलिंग स्टेशनों पर पीने के पानी, बिजली, वेटिंग एरिया, सैनिटाइजर, मास्क, सोप वाटर, वील चेयर आदि की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा लोग cVIGIL ऐप की मदद से चुनाव में भ्रष्टाचार को लेकर शिकायत कर सकेंगे। प्रचार अभियान के दौरान उम्मीदवार समेत कुल 5 लोग ही घर-घर जाकर प्रचार कर सकेंगे।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि तमिलनाडु में विधानसभा (Assembly Election 2021) का कार्यकाल 24 मई 2021 को समाप्त हो रहा है। इसी तरह पश्चिम बंगाल में 30 मई, असम में 31 मई और केरल विधानसभा का कार्यकाल 1 जून को खत्म हो रहा है। अरोड़ा ने कहा कि पुदुचेरी में उम्मीदवारों को अधिकतम 22 लाख रुपये खर्च करने की इजाजत होगी, बाकी 4 राज्यों में 38 लाख रुपये की अधिकतम सीमा होगी।

तीन चरणों में असम चुनाव

चुनाव आयुक्त ने कहा कि असम में 3 चरण में विधानसभा चुनाव (Assembly Election 2021) कराए जाएंगे। पहले चरण में 47 सीटों पर 27 मार्च को वोटिंग होगी। दूसरे चरण की 49 पर 1 अप्रैल को वोटिंग होगा। वहीं अंतिम चरण की 40 सीटों पर 6 अप्रैल को वोटिंग की जाएगी। सभी जगहों पर 2 मई को नतीजे घोषित किए जाएंगे।

तीन राज्यों में एक चरण में होगा चुनाव

अरोड़ा ने बताया कि केरल में सभी 14 जिलों 140 विधानसभा सीटों (Assembly Election 2021) पर एक ही चरण में 6 अप्रैल को वोटिंग होगी। वहीं पदुचेरी में सभी सीटों पर 6 अप्रैल को वोटिंग होगी। इसी तरह तमिलनाडु में 6 अप्रैल को एक ही चरण में सभी सीटों पर होगी वोटिंग। तीनों राज्यों के नतीजे 2 मई को आएंगे।

आठ चरणों में होगा बंगाल चुनाव

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव (Assembly Election 2021) की तारीखों का ऐलान करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि बंगाल में वोटिंग आठ चरणों में होगी। 27 मार्च को पहले चरण, 1 अप्रैल को दूसरे चरण, 6 अप्रैल को तीसरे चरण, 10 अप्रैल को चौथे चरण, 17 अप्रैल को पांचवे चरण की वोटिंग होगी।

पश्चिम बंगाल में छठे चरण की वोटिंग 22 अप्रैल, सातवें चरण की वोटिंग 26 अप्रैल और आखिरी चरण की वोटिंग 29 अप्रैल को होगी। बता दें कि चुनाव आयुक्त के तौर पर सुनील अरोड़ा की यह आखिरी प्रेस कांफ्रेंस है। वह 30 अप्रैल को अपने पद से रिटायर हो रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here