Farmers Protest: नरेश टिकैत बोले- ‘राजनाथ सिंह पिंजरे में बंद तोते की तरह’

0
273
Webvarta Desk: Farmers Protest: किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) के भाई और भारतीय किसान यूनियन (BKU) के अध्यक्ष नरेश टिकैत (Naresh Tikait) ने बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) को पिंजरे का तोता बनाकर रखा हुआ है।

नरेश टिकैत (Naresh Tikait) ने उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में आयोजित किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) में कहा, अगर सरकार उन्हें आजाद कर किसानों से बातचीत करने दे तो किसान आंदोलन (Farmers Protest) का समाधान तुरंत हो जाएगा, लेकिन यह सरकार जिद्दी है।

कृषि मंत्री बोले- बातचीत के दरवाजे आज भी खुले, पहले भी पूरी संवेदना थी

किसानों की तल्खी के बीच कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Tomar) ने बुधवार को कहा कि कृषि कानूनों पर किसानों से बातचीत के लिए सरकार के दरवाजे आज भी खुले हैं। तोमर बोले, ‘किसानों से कई बार चर्चा हो चुकी, लेकिन अभी भी उनका कोई पॉइंट है तो हम बातचीत के लिए तैयार हैं। तोमर ने यह बात एक इवेंट के बाद मीडिया से बातचीत में कही। उनसे पूछा गया था कि क्या किसानों से बातचीत फिर से शुरू करने के लिए सरकार कोई कोशिश कर रही है।’

‘किसानों की भलाई के लिए लगातार काम कर रहे’

तोमर ने कहा कि सरकार पूरी संवेदना के साथ किसानों से चर्चा करती रही है। उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना का फायदा 10 करोड़ किसानों को मिल चुका है। किसानों की सालाना आय करीब 6000 रुपए बढ़ चुकी है। तोमर ने यह भी कहा कि सरकार किसानों की आय दोगुनी करने के लिए कमिटेड है और उनकी भलाई के लिए लगातार काम कर रही है।

तोमर का यह बयान ऐसे समय आया है, जब किसान नेता लगातार आंदोलन तेज करने की स्ट्रैटजी बना रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने मंगलवार को कहा था कि सरकार पर कृषि कानूनों को वापस लेने का दबाव बनाने के लिए 40 लाख ट्रैक्टरों के साथ संसद मार्च की योजना बना रहे हैं। मार्च निकालने से पहले सरकार को बता दिया जाएगा। टिकैत ने यह मांग भी दोहराई कि मिनिमम सपोर्ट प्राइस (MSP) की गारंटी को लेकर नया कानून आना चाहिए।

संयुक्त किसान मोर्चा ने राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखी

कृषि कानूनों के खिलाफ 91 दिन से आंदोलन कर रहे 40 किसान संघों के संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने बुधवार को दमन प्रतिरोध दिवस मनाया। SKM ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को चिट्ठी भी लिखी। इसमें कहा गया है कि आंदोलन कर रहे किसानों और उनके समर्थकों का दमन बंद किया जाए।

इसके साथ ही SKM ने क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को जमानत मिलने के फैसले का स्वागत करते हुए दिल्ली पुलिस के खिलाफ तुरंत एक्शन लेने की मांग की है। SKM का कहना है कि पुलिस ने दिशा रवि को गैर-कानूनी तरीके से गिरफ्तार किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here