Jagannath Rath Yatra 2021 : जगन्नाथ मंदिर में आरती में शामिल हुए विजय रूपाणी

0
38
Jagannath Rath Yatra 2021

-इतिहास में पहली बार मात्र साढ़े चार घंटे में पूर्ण हुई रथयात्रा

-सीएम रूपाणी ने लगातार पांचवी बार की पहिंदविधि

अहमदाबाद, 12 जुलाई (कल्पेश मोदी)। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने भगवान जगन्नाथ की सोमवार को निकलने वाली ऐतिहासिक 144वीं रथ यात्रा को रवाना करने से पहले जगन्नाथ मंदिर पहुंचकर दर्शन किए तथा आरती में शामिल हुए। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि भगवान जगन्नाथ के आशीर्वाद से गुजरात में विकास हुआ है तथा उन्होंने प्रदेश को कोरोना से जल्द मुक्ति मिलने कि भगवान से प्रार्थना की।

रूपाणी ने कहा कि भगवान जगन्नाथ की इस बार आयोजित रथ यात्रा विशेष परिस्थितियों में निकाली जा रही है। श्रद्धालुओं को घर बैठकर टीवी पर ही भगवान के दर्शन करने होंगे। कोरोना महामारी के कारण रथ यात्रा कई प्रतिबंधों के साथ निकाली जाएगी तथा श्रद्धालुओं को इसमें शामिल होने नहीं दिया जाएगा। उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल और गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने भी श्रद्धा के साथ समारोह में भाग लिया।

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इस वर्ष भी आषाढ़ी बीज की पारंपरिक रथयात्रा में सोने की झाड़ू से भगवान के रथ की सेवा की सफाई की रस्म अदा की थी। आषाढ़ी बिज कच्छी नव वर्ष के अवसर पर मुख्यमंत्री ने कच्छी समुदाय के सभी भाइयों और बहनों को नव वर्ष की शुभकामनाएं दीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते इस साल कोविड प्रोटोकॉल के तहत रथ यात्रा का आयोजन किया गया है। भगवान जगन्नाथ के दर्शन के बाद उन्होंने प्रार्थना की कि गुजरात देश का पहला कोरोना मुक्त राज्य बने जो कोरोना महामारी से बाहर निकले। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने भगवान जगन्नाथ से प्रार्थना की है कि राज्य में पूरी स्थिति बहाल हो।

आज आषाढ़ी बीज कच्छी समाज के नौ वर्ष पूरे होने के अवसर पर मुख्यमंत्री विजयभाई रूपाणी ने कच्छी समाज के लोगों को बधाई दी। उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी के दूरदर्शी विचार को देखते हुए कच्छ जिले के नर्मदा से दस लाख एकड़ फीट पानी लाने की योजना बनाई गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा के इस पानी से कच्छ जिले की समृद्धि बढ़ेगी। भगवान जगन्नाथ और सुभद्राजी और बलभद्र के रथ शहर के लिए निकल गए हैं लेकिन नगरवासी घर बैठे हैं और उनके लिए दर्शन का लाभ उठाना आवश्यक है। मैंने भगवान जगन्नाथ से प्रार्थना की है कि देश और गुजरात जल्द ही कोरो महामारी से मुक्त हो और राज्य की प्रगति धीरे-धीरे बढ़ती रहे।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के मौजूदा हालात में राज्य सरकार ने लोगों की आस्था से जुड़े इस त्योहार का शांतिपूर्ण अंत सुनिश्चित करने के लिए विशेष योजना के तहत इस रथ यात्रा का आयोजन किया है। भाईचारा और एकता ऐसे समय में जब राज्य सहित देश पूरे के लिए विशेष महत्व रखता है। इस अवसर पर अहमदाबाद के मेयर किरीट परमार, गृह राज्य मंत्री प्रदीपसिंह जडेजा, मंदिर के महंत दिलीपदासजी महाराज, ट्रस्टी महेंद्रभाई झा सहित अन्य नेता जगन्नाथजी के दर्शन-अर्चना में उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here