JNU: टाइम पर नहीं मिली सैलरी तो फैकल्टी ने बहाई उलटी गंगा! जारी कर दिया VC का रिपोर्ट कार्ड

0
154
Webvarta Desk: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) JNU में पहली बार टाइम पर टीचर्स और दूसरे कर्मचारियों को सैलरी (JNU faculty didn’t get salary) नहीं मिल पाई। जेएनयू शिक्षक संघ (JNUTA) की ओर से आरोप लगाए गए हैं कि यूनिवर्सिटी के इतिहास में पहली बार टाइम पर सैलरी नहीं मिली है।

जवाहर लाल नेहरू शिक्षक संघ (JNUTA) की ओर से यह कहा गया कि यह सब जेएनयू के वीसी एम. जगदीश कुमार (JNU VC M jagdish Kumar) की वजह से हुआ है। JNUTA की ओर से कहा गया कि वीसी ने नियमों बदलाव कर दिया। जो कमेटी नए वीसी के चयन की प्रक्रिया शुरू करती है उसके नियमों में बदलाव कर दिया गया।

किसी कॉल और मैसेज का नहीं मिला जवाब

JNU में क्षेत्रीय विकास अध्ययन केंद्र के संकाय सदस्य बिक्रमादित्य कुमार चौधरी (Vikramaditya Kumar Chaudhary) ने कहा कि हम वीसी की उपलब्धियों की गिनती कर रहे हैं और मैं यह बताना चाहता हूं कि पहली बार ऐसा हुआ है कि टीचर्स को पहली बार टाइम पर सैलरी (JNU faculty didn’t get salary) नहीं मिली।

सरकार की ओर से यह नियम है कि सैलरी महीने की आखिरी तारीख में आ जाएगी। रजिस्ट्रार ने किसी कॉल और मैसेज का जवाब नहीं दिया। वहीं जेएनयू के अधिकारियों की मानें तो अभी तक यूजीसी से फंड नहीं मिला है।

जेएनयूटीए की ओर से आरोप लगाया कि फंड का गलत इस्तेमाल किया गया। पिछले पांच सालों में स्वायत्तता को समाप्त कर दिया गया है। वीसी की वजह से ऐसा हुआ है। उनके कई फैसले जिसकी वजह से पूरे सिस्टम पर असर पड़ा है।

मौसमी बासु सेक्रेटरी JNUTA ने कहा कि वीसी ने जानबूझकर ऐसा किया। वीसी के कार्यकाल में 150 से अधिक शिकायतें स्टूडेंट्स, नॉन टिचिंग स्टाफ की ओर से दर्ज कराई गईं। कैसे प्रवेश परीक्षा को महंगा कर दिया गया।

वीसी जगदीश कुमार (JNU VC M jagdish Kumar) की ओर से इन आरोपों पर कोई जवाब नहीं दिया है। JNUTA ने यह भी आरोप लगाया है कि कुमार ने नियुक्तियों और प्रमोशन नियमों की अनदेखी की है।

26 जनवरी को समाप्त होने वाला था कार्यकाल

जगदीश कुमार (JNU VC M jagdish Kumar) का कार्यकाल 26 जनवरी को ही समाप्त होने वाला था लेकिन उन्हें मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से एक्सटेंशन दिया गया। जब तक नए वीसी की नियुक्ति न हो जाए तब तक पद पर बने रहने के लिए कहा गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here