पेट्रोल-डीजल समेत खाद्य वस्तुओं की कीमतों को लेकर बीजेपी सरकार खिलाफ दिया धरना

0
26
Protest against BJP government

Ludhiyana: बेलगाम हो रही पेट्रोल, डीजल, सरसों के तेल व खाद्य वस्तुओं के बढ़ते दामों को लेकर कांग्रेस द्वारा धरना लगाकर केंद्र की बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। कांग्रेसी विधायक हल्का सैंट्रल सुरिंदर डाबर की अगवाई में जनकपुरी स्थित केंद्र में बीजेपी नीत सरकार के खिलाफ धरना लगा कुंभकर्णी नींद से जगाने का प्रयास किया गया।

युवा नेता माणिक डाबर ने पेट्रोल, डीजल, सरसों के तेल व अन्य खाद्य पदार्थों की दिन व दिन बढ़ रही कीमतों पर चिंता जताते हुये कहा केंद्र सरकार नित्य पेट्रोल, डीजल, सरसों के तेल व खाद्य पदार्थों पर नित्य नए दाम घोषित कर तानाशाही फरमान जारी कर देते हैं। पेट्रोल के दाम 2014 में जब कांग्रेस सरकार थी। तो इतने दाम नहीं बढ़े। हालांकि उस समय क्रूड आयल चरम सीमा पर था। आज क्रूड आयल करीब 40 रुपए प्रति बैरल है। तब पेट्रोल के दाम ने शतक लगाते हुये करीब 101 व डीजल शतक की और बढ़ रहा है।

आज नग्न धरना लगाने वाले पेट्रोल, डीजल पर चुप्पी साध बैठे हैं। गरीब के खाने वाला सरसों का तेल डबल सैंचरी के आसपास बना हुआ है। वहीं दालें व अन्य खाद्य पदार्थ आसमान की ऊंचाई पर हैं। क्या बीजेपी आमजन के हित का नहीं सिर्फ जगत की ज्यादा सोचता है। 2024 के चुनाव में बीजेपी को आमजन सबक सिखा सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाएंगे।

वहीं प्रदेश सैक्टरी पवन मेहता ने कहा क्या केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल, डीजल, सरसों का तेल व खाद्य पदार्थों के बाद रहे दामों प्रति अंजान बन सिर्फ सत्ता सुख भोगना चाहती है। आज गरीब महंगाई की चक्की में पिसा जा रहा है। वहीं पेट्रोल, डीजल के बढ़ते दामों प्रति मोदी सरकार द्वारा आंख बंद कर अंजान बनना कहीं न कहीं कारपोरेट जगत को फायदा पहुंचाने जैसा है। क्रूड आयल के दाम आज कम है। फिर पेट्रोल, डीजल के दाम बढ़ाना केंद्र सरकार की सोची समझी चाल है। अभी मंहगाई कम भी नहीं हुई कि पहली तारीख को मोदी सरकार ने देश वासियों को सिलैंडर के दाम बढ़ा फिर तानाशाही फरमान जारी कर दिया। क्या केंद्र सरकार इसीलिए आमजन द्वारा बनाई गई। कि गरीबों के साथ ऐसा खेल जारी रहे।

मेहता ने कहा आज स्मृति ईरानी व अन्य नेता कहां गए जो सड़कों पर धरना लगाते थे। केजरीवाल आज मुख्यमंत्री बन सत्ता सुख भोगने में व्यस्त है। वहीं अन्ना हजारे कुंभकर्णी नींद सो गए। बाबा रामदेव अपने व्यापार में व्यस्त हो गए। इससे प्रतीत होता है। क्या ये सभी बीजेपी की बी टीम के रूप में 2014 में कार्य करने आये थे। आज महंगाई चरम पर है वहीं ये लोग खामोश हैं। इस मौके रिंकू मल्होत्रा, पार्षद नीटू, राकेश कपूर, गुरमुख सिंह मिट्ठू पार्षद पति, मोहन सिंह मोहिनी, चन्नप्रीत सिंह, जसपाल सिंह, जोनिश व अन्य शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here