मोदी सरकार की दिशाहीनता ने टीके के उत्पादन और वितरण दोनों को चौपट किया: Priyanka Gandhi

0
189

नई दिल्ली, 01 जून (वेबवार्ता)। कांग्रेस महासचिव (General Secretary) प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) वाद्रा ने केंद्र सरकार (Central Government) की टीकाकरण नीति (Vaccination Policy) को विफल करार देते हुए मंगलवार (Tuesday) को आरोप लगाया कि इस सरकार की दिशाहीनता के कारण ही टीके का उत्पादन और वितरण दोनों चौपट हो गया है।

उन्होंने सरकार (Government) से सवाल पूछने की अपनी श्रृंखला ‘जिम्मेदार कौन’ के तहत किए गए फेसबुक पोस्ट (Facebook Post) में यह दावा भी किया गया कि केंद्र सरकार (Central Government) की नीति (Policy) के चलते इस वक्त देश में टीके के अलग अलग दाम हैं तथा इंटरनेट एवं दस्तावेजों (Internet And Documents) से वंचित लोगों को टीका लगाने की कोई व्यवस्था नहीं की गई है। गांधी प्रियंका (Priyanka Gandhi) ने कहा, ‘‘विशेषज्ञों का मानना है कि ज़्यादा से ज़्यादा लोगों का, और जल्द टीकाकरण (Vaccination) कोरोना वायरस (Corona Virus) को हराने के लिए ज़रूरी है।

जिन देशों ने अपने यहां ज़्यादा आबादी को टीका लगवाया, उनके यहां कोविड-19 महामारी (Corona Virus) की दूसरी लहर का कम प्रभाव पड़ा। हमारे देश में दूसरी लहर, पहली लहर से 320 फीसदी ज़्यादा भयानक साबित हुई। इसके लिए जिम्मेदार कौन?’’ प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने आरोप लगाया, ‘‘भारत (India) के पास चेचक, पोलियो का टीका घर-घर पहुंचाने का अनुभव है, लेकिन मोदी सरकार (Modi Government) की दिशाहीनता ने कोविड (Covid) रोधी वैक्सीन (vaccine) के उत्पादन और वितरण दोनों को चौपट कर दिया है।’’

कांग्रेस महासचिव (General Secretary) ने कहा, ‘‘15 अगस्त 2020 के भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) जी ने देश के हर एक नागरिक का टीकाकरण (Vaccination) करने की ज़िम्मेदारी लेते हुए कहा था कि पूरा खाका तैयार है। लेकिन अप्रैल 2021 में, दूसरी लहर की तबाही के दौरान, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) जी ने सबको वैक्सीन (Vaccine) देने की ज़िम्मेदारी से अपने हाथ खींचते हुए, इसका आधा भार राज्य सरकारों (State Government) पर डाल दिया।’’ उन्होंने दावा किया, ‘‘आज कई टीकाकरण केन्द्रों (Vaccination Centers) पर ताले लटके हैं एवं 18-45 साल के आयुवर्ग की आबादी को वैक्सीन (Vaccine) लगाने का काम बहुत धीमी गति से चल रहा है।’’

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के मुताबिक, ‘‘मोदी सरकार (Modi Government) की विफल टीकाकरण नीति (Vaccination Policy) के चलते अलग-अलग दाम पर टीके मिल रहे हैं। जो टीका केंद्र सरकार (Central Government) को 150 रुपये में मिल रहा है, वही राज्य सरकारों (State Government) को 400 रुपये में और निजी अस्पतालों (Hospitals) को 600 रुपये में मिल रहा है। टीका तो अंततः देशवासियों को ही लगेगा, तो फिर यह भेदभाव क्यों?’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर हम दिसम्बर 2021 तक हर हिंदुस्तानी का टीकाकरण (Vaccination) करना चाहते हैं तो हमें प्रतिदिन 70-80 लाख लोगों को टीका लगाना पड़ेगा। लेकिन मई महीने में औसतन प्रतिदिन 19 लाख लोगों को ही टीके (Vaccine) लगे हैं।’’

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here