G20: जस्टिन ट्रूडो के लिए भारत ने दिया था एअर इंडिया वन का ऑफर, कनाडा ने थैंक्यू बोल कर दिया था इनकार

नई दिल्ली. G20 शिखर सम्मेलन के बाद नई दिल्ली से प्रस्थान करने से कुछ समय पहले कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के विशेष विमान में तकनीकी खराबी आने के बाद भारत की तरफ से उन्हें एअर इंडिया वन विमान की सेवाओं की पेशकश की गई थी. एक सूत्र ने मंगलवार को यह जानकारी दी. कनाडा के नेशनल डिफेंस के अनुसार, विमान में एक हिस्से में खराबी आई थी, जिसे बदले जाने की जरूरत थी.

जानकारी के मुताबिक, भारत सरकार ने सोमवार को कनाडा वापसी के लिए प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो को आधिकारिक विमान एअर इंडिया वन की सेवाएं ऑफर की थी, ताकि वो जल्द स्वदेश लौट सकें. हालांकि, कनाडा सरकार ने धन्यवाद जताते हुए ऑफर लेने से इनकार कर दिया था.

कनाडा के पीएम को यह ऑफर उनके भारत से मंगलवार को रवानगी से करीब 24 घंटे पहले दिया गया था, लेकिन कुछ घंटे के बाद ही कनाडा की तरफ से इस पेशकश को ये कहते हुए ठुकरा दिया गया कि वे अपने विमान का इंतजार करेंगे.

12 सितंबर को जस्टिन ट्रूडो हुए कनाडा के लिए रवाना
कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो और उनका प्रतिनिधिमंडल उनके विमान में आई तकनीकी खराबी ठीक कर दिये जाने के बाद मंगलवार अपराह्न यहां से रवाना हो गए. शुक्रवार को दिल्ली पहुंचे ट्रूडो को रविवार को रवाना होना था, लेकिन विमान में तकनीकी समस्या के कारण वह दो दिनों तक फंसे रहे.

दोपहर करीब एक बजे विमान ने भरी उड़ान
मामले की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने बताया कि विमान ने मंगलवार अपराह्न करीब एक बजकर 10 मिनट पर उड़ान भरी. केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ट्रूडो को विदा करने के लिए हवाईअड्डे पर मौजूद थे. प्रधानमंत्री कार्यालय ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि विमान को उड़ान भरने की मंजूरी दे दी गई है.

10 सितंबर को ही स्वदेश लौटने वाले थे ट्रूडो
ट्रूडो और उनका प्रतिनिधिमंडल रविवार को जी20 शिखर सम्मेलन के बाद दिल्ली से रवाना होने वाला था, लेकिन विमान में तकनीकी खराबी के कारण वे यहीं फंस गए. बयान में कहा गया, “विमान की तकनीकी समस्या का समाधान हो गया है. विमान को उड़ान भरने की मंजूरी दे दी गई है.”

Leave a Comment