NDA Modi news: मुस्लिम महिलाओं के साथ मनाएं रक्षाबंधन, PM मोदी का NDA के सांसदों को संदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) इन दिनों NDA के सांसदों के साथ अलग-अलग ग्रुप में बैठक कर रहे हैं। पीएम ने एक बैठक में कहा कि उनकी सरकार ने ‘तुरंत तीन तलाक’ बैन करने का फैसला किया जिससे मुस्लिम महिलाएं सुरक्षित महसूस कर सकें। उन्होंने भाजपा और एनडीए के नेताओं से मुस्लिम महिलाओं के साथ रक्षाबंधन का त्योहार मनाने को कहा है।

सूत्रों ने बताया कि सोमवार रात पश्चिम बंगाल, ओडिशा और झारखंड के NDA सांसदों के साथ बैठक के दौरान पीएम (PM Modi) ने यह बात कही। मोदी और भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने समाज के विभिन्न वर्गों के लिए केंद्र सरकार की विकास पहलों की चर्चा की।

मीटिंग में भाग लेने वाले कुछ सांसदों ने बताया कि पीएम (PM Modi) ने समाज के हर वर्ग से खुद को जोड़ने की बात पर बल दिया। पार्टी पसमांदा (पिछड़े) मुसलमानों को अपने साथ जोड़ने की दिशा में काम कर रही है। दरअसल, इन बैठकों के जरिए बीजेपी की रणनीति 2024 के चुनाव से पहले NDA के घटक दलों के साथ संबंधों को मजबूत करना है। इस समय अलायंस में 38 पार्टियां हैं। हाल में पसमांदा मुसलमानों को जोड़ने के लिए भाजपा ने कई बड़े फैसले लिए। पिछले दिनों अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति तारिक मंसूर को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया।

यह भी पढ़ें: Nuh Violence: क्यों हुई नूह में हिंसा और क्या हैं अब हालात? जानें पूरी डिटेल

भाई-बहन का त्योहार

रक्षाबंधन के त्योहार पर भाई राखी बंधवाने अपनी बहनों के घर जाते हैं। इस साल 30 अगस्त को रक्षाबंधन है। रक्षाबंधन पर इस बार अल्पसंख्यक समुदाय के बीच भाजपा के कार्यक्रम देखने को मिलेंगे।

मुस्लिम महिलाओं से जुड़ा अहम बिल संसद से 2019 में पास हुआ था। इसके तहत तुरंत तीन तलाक की प्रथा को अवैध करार देते हुए अपराध घोषित किया गया। अगर कोई पति ऐसा करता है तो उसे जेल भी हो सकती है। मोदी ने बैठक में मुस्लिम महिलाओं के हित में लिए गए फैसलों और सुधारों की जानकारी दी।

जनता के बीच वक्त बिताएं सांसद

अपने संबोधन में मोदी ने कहा कि विपक्षी पार्टियां I.N.D.I.A के तहत एकजुट होने की कोशिश कर रही हैं जो पहले यूपीए के तहत थीं। उन्होंने कहा कि विपक्षी गठबंधन ने भले ही अपना नाम UPA से बदलकर ‘इंडिया’ कर लिया हो, लेकिन वह ‘भ्रष्टाचार और कुशासन के अपने पापों’ को धो नहीं पाएगा। बीजेपी ने एनडीए के 338 सांसदों को क्षेत्रवार तरीके से करीब 40-40 सासंदों का समूह बनाया है और संसद के मॉनसून सत्र के दौरान पीएम सबसे अलग-अलग बात कर रहे हैं।

पीएम ने पश्चिमी यूपी के करीब 45 एनडीए सांसदों के साथ भी बैठक की है। उन्होंने सांसदों से सरकार के कार्यों को लेकर पॉजिटिव मैसेज के साथ जनता के बीच जाने को कहा है। साथ ही जनता के बीच ज्यादा वक्त बिताने को भी कहा।

NDA सांसदों के साथ प्रधानमंत्री का संवाद कार्यक्रम सोमवार से शुरू हुआ है। पहले दिन दो ग्रुप की मीटिंग हुई थी। इसमें एक ग्रुप में ब्रज, बुंदेलखंड और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सांसद रहे और दूसरे ग्रुप में झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के एनडीए सांसद थे। सूत्रों ने बताया है कि एनडीए अपना फोकस लोगों को यह बताने में करेगा कि कैसे एनडीए के कार्यकाल में विकास हुआ है। वह हर पहलू पर यूपीए सरकार से तुलना करेगा कि पहले क्या स्थिति थी और नौ साल में किस तरह स्थितियां बेहतर हुई हैं।

Leave a Comment