बेंगलुरु से चेन्नई की दूरी घटकर हो जाएगी 262 KM, गडकरी ने एक्सप्रेसवे निर्माण का लिया जायजा

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बेंगलुरु-चेन्नई एक्सप्रेसवे की प्रगति का गुरुवार को निरीक्षण किया. गडकरी ने बताया, एक्सप्रेसवे का काम मार्च 2024 तक पूरा हो जाएगा.

गडकरी बोले- साल 2024 के आखिर तक सड़क के मामले में देंगे अमेरिका को टक्कर

नितिन गडकरी ने कहा, हम देश में विश्व स्तरीय सड़क बुनियादी ढांचा बना रहे हैं. आपसे वादा करते हैं कि 2024 की समाप्ति से पहले हमारा सड़क ढांचा अमेरिका के मानक के बराबर हो जाएगा.

16,730 करोड़ रुपये की लागत से तैयार हो रहा बेंगलुरु-चेन्नई एक्सप्रेसवे

बेंगलुरु-चेन्नई एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य 16,730 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया जा रहा है. इसकी लंबाई 262 किलोमीटर है, जो 8-लेन का लेआउट है.

बेंगलुरु से चेन्नई की दूरी 300 से घटकर हो जाएगी 262 किलोमीटर

खबर है कि बेंगलुरु-चेन्नई एक्सप्रेसवे को 120 किमी प्रति घंटे की गति के लिए डिजाइन किया गया है. बड़ी बात है कि एक्सप्रेसवे के निर्माण से बेंगलुरु और चेन्नई के बीच की दूरी 300 किमी से घटकर 262 किमी हो जाएगी.

कम समय में पूरी होगी बेंगलुरु से चेन्नई की यात्रा

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बेंगलुरु-चेन्नई एक्सप्रेसवे परियोजना का निरीक्षण करने के बाद संवाददाताओं के साथ बातचीत में कहा, इस परियोजना के तैयार हो जाने से यात्रा के समय को बचाने में मदद मिलेगी. साथ ही प्रमुख शहरों और भीड़भाड़ वाले इलाकों से गुजरने में देरी से भी बचा जा सकेगा. गडकरी ने कहा, मार्च, 2024 तक हम इस परियोजना को पूरा करना चाहते हैं.

Leave a Comment