महिला स्वास्थ्य कर्मियों ने अपनी मांगों को लेकर किया प्रदर्शन

भोपाल, 21 अगस्त (आमिर आबिद खान)। मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सभी संगठन एकजुट होकर अपनी मांगों को लेकर संघर्ष करते हुए नजर आ रहे हैं। अपनी मांगों को लेकर महिला स्वास्थ्य कर्मियों ने भी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। महिला स्वास्थ्य कर्मियों ने स्टाफ नर्स का प्रभार दिए जाने की मांग को लेकर संचनालय स्वास्थ्य के दफ्तर के सामने मुंडन करा कर अनोखे अंदाज में अपना विरोध दर्ज़ करवाया।

महिला स्वास्थ्य कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि शासन स्तर से जीएनएम की ट्रेनिंग प्राप्त करने के बावजूद महिला स्वास्थ्य कर्मचारियों को स्टाफ नर्स का प्रभार नहीं दिया जा रहा है। प्रदेश की करीब 350 से अधिक महिला स्वास्थ्य कर्मी ट्रेनिंग लेने के बाद से प्रभार लेने के लिए दर-दर की ठोकरे खा रही है। 3 साल बीत जाने के बाद भी जब न्याय नहीं मिला तो उन्होंने अपना मुंडन कराकर सरकार से रक्षा बंधन का तोहफा मांगा। 1250 स्थित जेपी अस्पताल परिसर में मौजूद संचनालय स्वास्थ्य के दफ्तर में महिला स्वास्थ्य कर्मियों ने हाथों में रक्षाबंधन का तोहफा दो की तख्तियां लेकर इस दौरान प्रदर्शन भी किया।

प्रगतिशील संयुक्त कर्मचारी कल्याण संघ के अध्यक्ष सुरेश गगन्मवार का कहना है कि 2015 में जारी हुए शासन के राजपत्र मुताबिक 10 प्रतिशत पदोन्नति नियमित स्वर्ग को देना है, लेकिन पदोन्नत पर रोक के कारण प्रभार के आदेश जारी किए जा रहे है। परंतु महिला स्वास्थ कार्यकर्ताओं जो स्टाफ नर्स की विभागीय ट्रेनिंग कर चुकी है उन्हे प्रभार के आदेश जारी नही कर रहे है। संघ 2020 से प्रयासरत है पर आदेश न करने के कारण उन्हें आज मुंडन का रुख इख्तियार करना पड़ रहा है।

Leave a Comment