वर्ल्ड कप टीम में जगह पाने वाले बिहार के पहले खिलाड़ी बने ईशान किशन, पिता ने दिया दिल को छूने वाला मैसेज

Patna: बिहार के लाल ईशान किशन का सेलेक्शन अगले महीने शुरू हो रहे मेंस वनडे वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में किया गया है. टीम इंडिया में 50 ओवर के फार्मेट वाले वर्ल्ड कप में जगह पाने वाले ईशान बिहार के पहले खिलाड़ी बने हैं. इस खबर के बाद उनके माता-पिता सहित उनके परिवार और बिहार झारखंड के क्रिकेट प्रेमी बेहद उत्साहित है. ईशान वनडे क्रिकेट के वर्ल्ड कप टीम में जगह पाने वाले पहले बिहारी क्रिकेटर हैं. जब ईशान किशन के पापा प्रणव पांडे को ये खबर मिली तो वो उत्साहित तो हुए लेकिन हैरानी नहीं हुई क्योंकि उन्हें पूरा भरोसा था कि उनके बेटे का सलेक्शन वर्ल्ड कप के लिए ज़रूर होगा.

इसकी वजह थी पिछले कुछ मैचों से ईशान किशन का प्रदर्शन. टीम इंडिया में जगह पाने के बाद ईशान लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन श्रीलंका में एशिया कप के दौरान पाकिस्तान के विरुद्ध उनकी शानदार पारी के बाद तो पूरा यकीन हो गया था कि ईशान का चुनाव भारतीय टीम में होना तय है. ईशान के पापा प्रणव पांडे कहते हैं कि मुझे पूरा यकीन है कि भारत वर्ल्ड कप जीतेगा और उसमें महत्वपूर्ण रोल ईशान किशन का भी रहेगा. ईशान का सपना था कि वो भारतीय टीम में खेले. इसके लिए उसने बहुत मेहनत की है और आज उसी का नतीजा है की ईशान तीनों फॉर्मेट में भारतीय टीम में है और बेहतर प्रदर्शन कर रहा है.

ईशान के पापा कहते हैं कि ईशान को किसी भी क्रम में खेलने का मौक़ा वर्ल्ड कप में मिले ये तो मैनेजमेंट और कप्तान को तय करना है लेकिन ईशान को ओपनिंग करना बेहद पसंद है लेकिन वर्ल्ड कप में वन डे मैच में पांचवे नंबर पर ही खेलें तो ज़्यादा बेहतर है क्योंकि पांचवा नंबर किसी भी टीम के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है. वैसे जब बात टी-20 की हो तो ईशान को ओपनिंग में मौका मिले, ये हम जरूर चाहेंगे. विकेटकीपर बल्लेबाज के पिता ने बताया कि भारतीय टीम में जगह बनाना बहुत आसान नहीं है, खासकर एक विकेटकीपर के लिए क्योंकि तीन-तीन कीपर और बेहतरीन बैट्समैन इस वक्त भारतीय टीम में हैं. ऐसे में ईशान किशन के लिए हमेशा चुनौती बनी रहेगी. इसी वजह से ईशान किशन लगातार मेहनत करता रहता है और यही उसके सफलता की वजह है.

ईशान के पापा को इस बात का मलाल है कि पाकिस्तान के विरुद्ध ईशान शतक नहीं बना पाया. ईशान के पापा ने बताया कि पहला कारण तो उसके पैर में खिंचाव आ गया था और दूसरा उस वक्त बारिश के हालात हो रहे थे, ऐसे में ईशान ने शतक से ज़्यादा टीम के बारे में सोचा और उसी की वजह से तेज गति से रन बनाने के चक्कर में आउट हो गया, लेकिन ये कसर वो आगे के मैचों में निकाल लेगा उसने बोला है. आपको बता दें कि ईशान किशन मूल रूप से बिहार के नवादा जिला के रहने वाले हैं. उनके माता-पिता पटना में ही रहते हैं. ईशान कई टीमों के लिए क्रिकेट खेल चुके हैं.

Leave a Comment